ब्रेकिंग: प्रेम विवाह रचाने पर दलित नेता की हत्या, आरोपी ससुराली गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

अल्मोड़ा। जिले के भिकियासैंण में दूसरी जाति की युवती के साथ प्रेम विवाह करने पर ससुराल वालों ने दलित नेता की हत्या कर दी। पुलिस ने हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद क्षेत्र में तनाव बढ़ गया है। वर्ग सघर्ष की आशंका में भिकियासैंण को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार सल्ट के पनुवाधौखन निवासी जगदीश चंद्र पुत्र केश राम और भिकियासैंण निवासी गीता उर्फ गुड्डी ने विगत 21 अगस्त को गैराड़ गोल्ज्यू मंदिर में प्रेम विवाह किया था। शादी से पहले गुड्डी अपने सौतेले पिता जोगा सिंह और सौतेले भाई गोविंद सिंह, माता भावना पत्नी जोगा सिंह के साथ रहती थी।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग: बागेश्वर में एक घर में चार शव मिलने से सनसनी, मृतकों में एक महिला और तीन बच्चे


दोनों का प्रेम विवाह गुड्डी के सौतेले भाई और पिता को रास नहीं आया। बीते गुरुवार को जगदीश के ससुराल वालों ने जगदीश चंद्र को भिकियासैंण में पकड़ लिया था। वह जगदीश चंद्र का एक गाड़ी से अपहरण कर ले गए और बेरहमी से उसकी हत्या कर दी।

सूचना पर पुलिस और राजस्व की टीम ने देर शाम गाड़ी से जगदीश का लहुलूहान शव बरामद कर लिया। जगदीश चंद्र दो बार उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुके है। इधर, तहसीलदार निशा रानी ने बताया की पुरे मामले की जा जांच की जा रही है। आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं। मामले को देखते हुए सल्ट भतरोजखान आदि क्षेत्र की पुलिस मौके पर पहुंच गई हैं।

यह भी पढ़ें 👉  जोशीगांव में बरामद हुए शवों के मामले में बोले पुलिस अधीक्षक, आर्थिक तंगी से जूझ रहा था परिवार घटनास्थल से मिला 6 पन्ने का सोसाइड नोट

एसएसपी को दिया था ज्ञापन

मृतक की पत्नी गीता ने अपनी और पति की जान को खतरा बताते हुए 27 अगस्त को एसएसपी अल्मोड़ा को ज्ञापन भी दिया था। अगर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया होता तो शायद जगदीश सुरक्षित होता।

Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.