जिलाधिकारी ने जनता दरबार में सुनी जनसमस्याएं, अधिकारियों को दिए समाधान करने के निर्देश

ख़बर शेयर करें -

जिलाधिकारी अनुराधा पाल की अध्यक्षता में जनता दरबार कार्यक्रम कलेक्टे्रट सभागार में आायोजित हुआ। इस मौके पर 28 शिकायती पत्र दर्ज किए गए, जिसमें से 05 शिकायतें वर्चुवल प्राप्त हुई। जिलाधिकारी ने कहा कि जनता दरबार की सार्थकता तभी है, जबकि जनता दरबार में आयी समस्याओं का समय से निराकरण हो।

जिलाधिकारी प्राप्त शिकायतों पर अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि समयबद्ध तरीके से शिकायतों का निस्तारण करना सुनिश्चित करें इसमें किसी प्रकार की शिथिलता कतई बर्दाश्त नहीं होगी। कहा कि लापरवाह अधिकारियो पर कड़ी कार्यवाही भी अमल में लायी जायेगी। इसलिए सभी अधिकारी अपने विभाग से सम्बन्धित शिकायतों का समयानुसार निस्तारित करना सुनिश्चित करें।
जनता दरबार में शिकायतकर्ता लेटी निवासी पूर्व प्रधान गोविन्द सिंह ने लेटी-गिरेछीना मोटर मार्ग का मुआवजा न मिलने, कार्य की धीमी गति होने के साथ ही लेटी-शीशाखानी मोटर मार्ग में कटी नाप भूमि का मुआवजा दिलाए जाने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता लोनिवि को एक माह के भीतर सर्वे कर मुआवजा भुगतान करने के निर्देश दिए। शिकायतकर्ता ने लेटी में झूलते विद्युत तारो को दूरूस्त करने व जीर्ण-शीर्ण पोलों को बदलने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता विद्युत को सर्वे करते हुए आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। शिकायतकर्ता पनीराम ने वर्षाकाल के दौरान क्षतिग्रस्त वैसानी अमगढ पेजयल लाईन का मरम्मत कार्य कराते हुए पेयजल आपूर्ति सूचारू करने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने 02 दिन के भीतर पूर्ण जानकारी लेते हुए मरम्मत कार्य पूर्ण होने तक वैकल्पिक व्यवस्था कर पेयजल व्यवस्था सुचारू कराने के निर्देश नोड अधिकारी जल जीवन मिशन/अधिशासी अभियंता पेयजल निगम को दिए। वहीं पूरन सिंह ने मेहनरबूंगा-पुलिस लाईन पेयजल लाईन में कई माह से पानी न आने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने जल संस्थान का शीघ्र आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

जनता मिलन कार्यक्रम में जिलाधिकारी के समक्ष गजेन्द्र सिंह टाकुली ने ज्वालादेवी वार्ड पीडब्ल्यूडी कॉलोनी के समीप हो रहें अतिक्रमण पर कार्यवाही करने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी को निरीक्षण करने के निर्देश दिए। हरीराम ने भूमिहीन होने की बात करते हुए भूमि आवंटन की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने भूलेख अनुभाग को पात्रता की जांच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। पूर्व प्रधान आनंद सिंह ने पीएमजीएसवाई की बैजनाथ-अमस्यारी मोटर मार्ग का मरम्मत कार्य कराने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई को तुरंत निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

जनता दरबार में जिलाधिकारी ने कई लोंगो की समस्यायें आंनलाइन भी सुनी, जिसमें विजय कुमार ने चौगांवछीना मोटर मार्ग का मरम्मत कार्य कराने, चौगांवछीना व जोशीगांव में झूलते विद्युत तारों को दुरूस्त कराने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अभियंताओं को क्षेत्र में जाकर समस्या दूर करने के निर्देश दिए। कपकोट से वर्चुवल जुडे तनुज तिरूवा ने कपकोट के वार्ड-02 में भूमि कटाव हेतुु सुरक्षा दीवार लगाने के साथ ही बंदरों के आतंक से निजात दिलाने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने बताया कि शासन स्तर पर इस समस्या के लिए योजना बनायी जा रही है। गरूड से आंनलाइन जुडे ग्राम प्रधान राजेन्द्र सिंह ने मेटला गांव में नदी के ऊपर बनायें जाने वाले पुल के लिए स्थानीय कुछ लोंगो द्वारा बेवजह विरोध करने की शिकायत की, जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी गरूड को शीघ्र कार्यवाही करते हुए अवगत कराने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  डीएम ने किया जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण, दो डॉक्टर मिले गैर हाजिर, सीएमएस को दिए स्पष्टीकरण लेने के निर्देश