जिले के इस विद्यालय में भी बदहवास हो रही छात्राएं, पहले रैखोली में भी हुआ था यही मामला

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। जिले के रैखोली के जूनियर हाईस्कूल के बाद मास हिस्टीरिया की परेशानी इंटर कॉलेज सनेती में भी शुरु हो गई है। चार दिनों के दौरान आठ छात्राओं की तबीयत अचानक बिगड़ी है। छात्राएं विद्यालय में अचानक चीखने लगती हैं और बदहवास हो जाती हैं। छात्राओं का स्वास्थ्य बिगड़ने से शिक्षा पर भी असर पड़ रहा है।

इंका सनेती में मंगलवार को परीक्षा फार्म भरने के दौरान अचानक एक लड़की का स्वास्थ्य ‌बिगड़ गया, ‌जिसके बाद अन्य छात्राएं भी चीखने चिल्लाने लगी। शुक्रवार को पांच बालिकाएं बदहवासी की हालत में चले गईं।विद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य गो‌विंद सिंह भौर्याल ने बताया कि छात्राओं का स्वास्थ्य कुछ मिनट के लिए ‌‌बिगड़ता है और फिर ठीक हो जाता है। उन्होंने बताया कि पूर्व में भी विद्यालय में इस तरह की परेशानी हो चुकी है। उन्होंने बताया कि क्षेत्र में लगे स्वास्थ्य शिविर में बालिकाओं की जांच कराई गई है। इधर मुख्य शिक्षाधिकारी गजेंद्र सिंह सौन ने बताया कि प्रधानाचार्य से मामले की  जानकारी ली है। उनका कहना है कि  केवल एक-दो मिनट में छात्राएं बदहवास होकर सामान्य हो जाती हैं। स्वास्थ्य शिविर में छात्राओं की जांच कराई जा चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  अदरक कूटकर बनाई चाय, मॉर्निंग वॉक पर सुनी लोगों की समस्याएं, अस्पताल का किया निरीक्षण