एक ही मांग एक ही नारा, कांडा-कमस्यार हो ब्लॉक हमारा

ख़बर शेयर करें -

खातीगांव में हुई क्षेत्रवासियों की बैठक में बनी संघर्ष की रणनीति
बागेश्वर। कांडा-कमस्यार को अलग विकासखंड का दर्जा देने की मांग को लेकर क्षेत्र के लोग लामबंद होने लगे हैं। 1956 से चली आ रही मांग को लेकर अब क्षेत्रवासी आर-पार के संघर्ष का मन बना चुके हैं। ग्रामीणों ने रविवार को खातीगांव में बैठक कर आगे की रणनीति तैयार की।
वरिष्ठ ग्रामीण सोहन सिंह रावत की अध्यक्षता में हुई बैठक में क्षेत्र के कई गांवों से लोग आए। संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट गोविंद सिंह भंडारी ने कहा कि ब्लॉक नहीं होने से क्षेत्र का विकास रुक गया है। लोगों को छोटे-छोटे काम के लिए जिला मुख्यालय जाना पड़ता है।
बैठक में क्षेत्रवासियों ने तय किया कि आगामी 15 अगस्त को क्षेत्र के हर विद्यालय में संवाद कार्यक्रम होगा। 02 अक्टूबर को संकल्प दिवस के रूप में मनाकर ब्लॉक की मांग के लिए निर्णायक संघर्ष करने का संकल्प लिया जाएगा। 03 अक्टूबर को बागेश्वर जिला मुख्यालय मुख्यालय में जनाक्रोश रैली की जाएगी। सभी लोगों ने ब्लॉक की मांग के लिए एकजुट होकर लड़ाई लड़ने का एलान किया । बैठक का संचालन सुरेश रावत ने किया। इस मौके पर जिपं सदस्य गोपा धपोला, पूजा आर्या, राजेंद्र गैड़ा, कृपाल सिंह रावत, सुनीता राठौर, दरपान सिंह धपोला, भवान सिंह धपोला, राजेंद्र राठौर, महेश राठौर, मुकेश पाठक, दीपक रौतेला, मनोहर सिंह रौतेला, सूरज कुमार, गोकुल मिश्रा, सुनील रावत, पंकज डसीला, नदंन रौतेला, हरीश डसीला, गोविंद राम, गोपाल सिंह राठौर, लाल सिह रावत आदि मौजूद रहे।

Ad Ad Ad Ad