जिले के सीमांत गांव चंतोला से विधिक सेवा प्राधिकरण से संचालित “पैन इंडिया कार्यक्रम” की शुरुआत।

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर । जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बागेश्वर के निर्देश पर चलाए जा रहे पैन इंडिया कार्यक्रम की शुरुआत जिले के सीमांत काण्डा तहसील के चंतोला गांव से हुई।

विधिक सेवा प्राधिकरण के पीएलवी ने जनपद के सूदूरवर्ती अंतिम सीमा पर बसा गांव चंतोला में ‘पैन इंडिया कार्यक्रम’ के तहत ग्रामीणों को महत्वपूर्ण कानूनी जानकारियां सहित समाज कल्याण एवं सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं की जानकारी देते हुए यहां ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनी उनके निदान हेतु सम्बन्धित अधिकारियों से दूरभाष से समीक्षा कर निदान की कार्रवाई भी की बात की गई। सेवा प्राधिकरण के पीएलवी गांव गांव जाकर वृद्धजनों की समस्याओं को सुनकर उनकी समस्याओं के समाधान का प्रयास कर रही है।

यह भी पढ़ें 👉  चंपावत में आयोजित हुआ एनयूजे का प्रदेश स्तरीय ‘मीडिया संवाद’, पत्रकारों के हित से जुड़े मामलों पर हुई चर्चा

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के काण्डा पीएलवी पंकज डसीला ने बताया कि नेटवर्किंग सेवा न होने के वजह से राशनकार्ड, परिवार रजिस्टर, जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेज आंनलाईलन नहीं लोग कर पाएं हैं यही दिक्कत सबसे अधिक रही। बेटियों के सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बहुत कम खुले थे जिसमें अनिवार्य रूप से खाते खोलने सभी पाल्यों के आधार बनवाने जन्मप्रमाण पत्र बनवाने की अपील की है। महिलाओं को घरेलू हिंसा,उनके अधिकारों के बारे में बताया गया। किसान पेंशन योजना का लाभ पहले मिलता था अब नहीं मिल रहा वृद्ध जनों ने यह भी समस्या रखी तो सम्बन्धित राजस्व उपनिरीक्षक से तत्काल संपर्क कर उक्त समस्या के समाधान किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  जख्मी हालत में मिला गुलदार, वन विभाग ने किया रेस्क्यू (वीडियो)


इस मौके पर पंकज सिंह डसीला पीएलवी न्याय पंचायत खातीगांव ,पीएलवी खातीगांव भूपेंद्र सिंह रौतेला, आंगनबाड़ी कार्यकत्री श्रीमती विजया रौतेला, (नरगोली) श्रीमती कला देवी चंतोला ग्राम पंचायत विकास अधिकारी श्री भाष्करानंद पाठक आदि उपस्थित थे।