सुनील कुमार ने जीती राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग प्रतियोगिता, 31 पायलटों ने की भागीदारी

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। तीन दिवसीय राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी प्रतियोगिता का समापन  केदारेश्वर मैदान में हुआ।मुख्य अतिथि विधायक सुरेश गढ़िया, जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर रहे सुनील कुमार को 50 हजार, द्वितीय पंकज सिंह मेहता को 30 हजार, तृतीय स्थान पर रहे मनीष उप्रेती को 20 हजार का पुरस्कार प्रदान किया।

   उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद व जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में जालेख से केदारेश्वर मैदान में आयोजित राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी प्रतियोगिता में 31 पैराग्लाइडरों द्वारा प्रतिभाग किया गया। शुक्रवार को जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने जालेख से प्रशिक्षित पैराग्लाइडरों के साथ उड़ान भरी व लगभग 9 मिनट में केदारेश्वर मैदान में लैंडिंग की।

   मुख्य अतिथि गढ़िया ने संबोधित करते हुए पैराग्लाइडिंग प्रतियोगिता कराने हेतु उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद, सरकार व जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया, सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा जनपद में सभी खेलों को प्रोत्साहित किया जाएगा, साथ ही कपकोट क्षेत्र के साथ-साथ जनपद का  सर्वांगीण विकास प्राथमिकता से किया जाएगा। उन्होंने सभी के सहयोग की अपील की।

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने कहा कि सभी  पैराग्लाइडिंग पायलटों ने इस राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग एक्यूरेसी प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया गया, जो हमारे लिए बहुत अच्छी बात है। उन्होंने कहा सभी पैराग्लाइडर द्वारा कपकोट को पैराग्लाइडिंग के लिए बेहतर बताया। उन्होंने कहा जनपद में प्रथमवार राष्ट्रीय पैराग्लाइडिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जो सफल रहा, यह सराहनीय है, भविष्य में ऐसी प्रतियोगिताओं का आयोजन करने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता में 8 प्रदेशों व आर्मी, आसाम राईफल से 31 प्रतिभागियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। जनपद में ऐसी साहसिक खेलों की अपार संभावनाएं हैं, जिससे क्षेत्र की आर्थिकी भी मजबूत होगी। उन्होंने युवाओं से साहसिक खेलों में रुचि लेकर प्रतिभाग करने की अपील की। उन्होंने कहा सरकार द्वारा प्रदेश में साहसिक खेलों को बढ़ावा दिया जा रहा है। जिला प्रशासन भी साहसिक खेलों को बढ़ावा देने का प्रयास कर रहा है। सभी युवा साहसिक खेलों का प्रशिक्षण लेकर खेलों व रोजगार से जुड़े। उन्होंने कहा कि साहसिक खेलों से जहां एक ओर जनपद की प्रसिद्धि बढ़ेगी वहीं दूसरी ओर साहसिक पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा, पर्यटकों की आमद बढ़ेगी व क्षेत्र की आर्थिकी भी मजबूत होगी। इस अवसर पर सभी पैराग्लाइडर व जजों को सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  बोलेरो और ट्रक की टक्कर, आठ लोगों की मौत

कार्यक्रम में नगर पंचायत अध्यक्ष गोविन्द बिष्ट,सांसद प्रतिनिधि दयाल सिंह ऐठानी, मनोहर राम, हरीश कोरंगा, भुवन गड़िया, कमल मिश्रा, भोपाल सिंह, भगवत कोरंगा, शंकर बोरा, गोविन्द बड़ती के साथ ही मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ डीपी जोशी, उप जिलाधिकारी मोनिका, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ हरीश पोखरिया, जिला पर्यटन अधिकारी कीर्ति आर्या, सहित प्रतियोगिता जज कै0 राघवेन्द्र पाठक, विष्णु शर्मा, अखीलेश यादेव, धीरेन्द्र ठाकुर, एस.राज, अखिलेश यादव, राज कुमार, जगदीश जोशी, दीपक पंत, पायलट राजेन्द्र पुनेठा, रामविलास वर्मा, सुनील चौहान, दिनेश कोरंगा, साजिद पी, मनीष मखोलिया, आशिष ठाकुर, शिंदे राम, मदन पोखरिया, दीपक नौगाई, मनीष, प्रवीण कोरंगा, शिवजीत, दिव्या, भुवन चंद्र, दिनेश कोरंगा, संजय राज, मणीकांत एम, पवन नेगी, राजेन्द्र पुनेठा, पूरन सिंह, अमृत ,मयंक, दीपक आर्या, करन सिंह आदि मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन राजीव जोशी ने किया।

यह भी पढ़ें 👉  बोलेरो और ट्रक की टक्कर, आठ लोगों की मौत