जन समस्याओं के निदान में लापरवाही और उदासीनता न बरतें अधिकारी: गढ़िया, शिविर में 56 समस्याएं हुई दर्ज

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। विधायक सुरेश गढ़िया की अध्यक्षता में जिले के सुदूरवर्ती खातीगांव में बहुउद्देश्यीय शिविर आयोजित हुआ। सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम के तहत सुदूरवर्ती गांव में आयोजित शिविर में 56 समस्याएं व शिकायतें दर्ज हुई।अधिकांश शिकायतें एवं समस्याओं का अधिकारियों की उपस्थिति में मौके पर ही निस्तारण किया गया।

विधायक गढ़िया ने कहा कि शिविर में आई समस्याओं और शिकायतों का संबंधित विभागीय अधिकारी गुणवत्ता और समयबद्धता के साथ निस्तारण करना सुनिश्चित करें। लापरवाही और उदासीनता कतई भी बर्दाश्त नही की जाएगी। विधायक ने कहा कि क्षेत्रीय अधिकारी नियमित रूप से क्षेत्र में जाकर ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण करें। ताकि ग्रामीणों को भी आभास होगा। सरकार निरन्तर रोजगार और सुविधाओं को आगे बढ़ाने का सम्पूर्ण प्रयास के साथ संकल्पित है। विधायक ने कहा कि जल्द ही कांडा-खातीगांव सड़क मार्ग का डामरीकरण व दूर संचार के लिए टॉवर स्थापित किया जाएगा। बहुउद्देश्यीय शिविर में अधिकांश समस्याएं सड़क,स्वास्थ्य,बिजली,पानी, शिक्षा,सिंचाई नहर,आवास,भूमि प्रतिकर को लेकर रही।

       शिविर में राजेन्द्र सिंह द्वारा कांडा-रावतसेरा मोटर मार्ग के किमी 17 में बरसात से क्षतिग्रस्त सुरक्षा दीवार निर्माण की समस्या रखी। जिस पर विधायक ने लोक निर्माण विभाग को प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। गोकुल सिंह रावत द्वारा चकरीगांव में क्षतिग्रस्त पेयजल योजना को ठीक कराने एवं गांव में सुरक्षा दीवार, सिंचाई नहर को दुरुस्त करने की समस्या रखी। इस सम्बंध में जल निगम के कोई भी जिम्मेदार अधिकारी शिविर में उपस्थित नही होने पर विधायक ने स्पष्टीकरण लेने के साथ ही वेतन रोकने की कार्रवाई करने के निर्देश एडीएम को दिए। भंडारीसेरा में कृषि भूमि के लिए सिंचाई की सुविधा नही होने पर विधायक ने भंडारीसेरा में सिंचाई व्यवस्था के लिए लिफ्ट योजना प्रस्तावित करने के निर्देश लघु डाल को दिए। शिविर में आएं दिव्यांग बच्चे का उपचार कराने हेतु विधायक ने आरबीएसके टीम को भेजने के निर्देश सीएमओ को दिए। इस दौरान विधायक ने 03 दिव्यांगजनो को पेंशन हेतु दिव्यांग प्रमाण पत्र भी वितरित किए। विधायक ने कहा कि सुदूरवर्ती गांव में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देना स्वास्थ्य विभाग की अहम जिम्मेदारी है, लेकिन अमूमन देखा गया की डॉक्टर नदारद रहते है। जिस कारण ग्रामीणों को स्वास्थ्य लाभ नही मिल पाता है। विधायक ने गांव में डॉक्टर,सीएचओ,एएनएम की कमी को दूर करने के लिए सीडीओ, एडीएम, सीएमओ की मौजूदगी में कमेटी गठित करने के निर्देश दिए। ताकि किसी भी डॉक्टर को इधर से उधर सम्बद्ध न किया जा सके। सूरज कुमार बनी गांव द्वारा क्षतिग्रस्त तीन बिजली के पोल ठीक करने एवं भंडारी गांव में क्षतिग्रस्त बिजली के पोल व ट्रांसफर  बदलने की समस्या रखी। जिस पर विधायक ने 15 दिन के भीतर समस्या का निराकरण करने के निर्देश अधिशासी अभियंता को दिए। अनिल रौतेला नरगोली गांव औऱ सतीश चंद्र उत्प्रेती ने खांखा गांव में जंगली जानवरों से फसल की सुरक्षा के लिए खेतों में घेरबाड़ कराने की समस्या रखी। विधायक ने मुख्य कृषि अधिकारी को उक्त कार्य प्रस्तावित करने के निर्देश दिए। पीएमजीएसवाई विभाग को कांडा क्षेत्र के अंर्तगत सड़क कटिंग के लिए आई ग्रामीणों की भूमि का मुआवजा भुगतान की कार्रवाई करने को कहा। विधायक ने आरईएस द्वारा निर्माणाधीन भवनों के निर्माण कार्यों में तेजी लाने के साथ ही गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। ग्राम प्रधान खाती द्वारा खेल मैदान से लगे विद्युत लाइन को अन्यत्र हस्तांतरित  करनी की समस्या रखी। विधायक ने अधिशासी अभियंता को विद्युत लाइन हटाने के निर्देश दिए। विधायक ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सरकार की मंशा जनता की समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण करने की है। इसलिए सभी अधिकारी आने वाले शिविरों में सम्पूर्ण दस्तावेज एवं पूर्ण जानकारी के साथ शिविर में प्रतिभाग करें। साथ शिविर में आयी समस्याओं को त्वरित गति के साथ निस्तारण करते हुए सूचना शिकायकर्ता को भी  दे।

यह भी पढ़ें 👉  डीएम ने किया तहसील और ब्लॉक कार्यालय का निरीक्षण, कार्यों की नियमित मॉनिटरिंग के दिए निर्देश

          मुख्य विकास अधिकारी आरसी तिवारी ने सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिन शिकायतों एवं समस्याओं का निस्तारण शिविर में नही हुआ है। उनका निस्तारण एक पक्ष अर्थात 15 दिन के भीतर निस्तारण करना सुनिश्चित करें। साथ ही निस्तारण की सूचना सम्बंधित शिकायतकर्ता को भी देना सुनिश्चित करें।

यह भी पढ़ें 👉  58 पव्वे देशी मसालेदार शराब के साथ एक गिरफ्तार

       बहुउद्देश्यीय शिविर में विभागों द्वारा विभागीय स्टॉल स्थापित कर सरकार की जनकल्याकारी योजनाओं की जानकारी जनता को प्रदान की ।  जिसमें स्वास्थ्य विभाग द्वारा 20 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। साथ ही निःशुल्क दवाई वितरण की गई। उद्यान विभाग द्वारा 10 बागवानों को नकदी फसलों के बीज,दवाई आदि वितरण कर लाभान्वित किया गया। कृषि विभाग द्वारा बीज दवाई आदि देकर 20 किसानों को लाभान्वित किया। मत्स्य विभाग द्वारा 7 लोगों को विभागीय योजनाओं की जानकारी प्रदान की। पशुपालन विभाग द्वारा 21 पशुपालकों को विभागीय योजनाओं से लाभान्वित किया गया। पंचायती राज विभाग द्वारा 30 परिवार रजिस्टर  की नकल जारी की। राजस्व विभाग द्वारा  आय प्रमाण पत्र जारी किए। समाज कल्याण विभाग द्वारा विभिन्न पेंशन से सम्बंधित 15 फार्म वितरण किए।  बाल विकास द्वारा 98 लोगों को विभागीय योजनाओं की जानकारी दी। पर्यटन विभाग द्वारा 12 एवं उद्योग विभाग द्वारा 10 और जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा 30 लोगों को विभागीय योजनाओं एवं विधिक जानकारियां दी।

शिविर में अपर जिलाधिकारी एनएस नबियाल, भाजपा जिलाध्यक्ष इंद्र सिंह फर्स्वाण,  हीरा सिंह कर्मयाल, मंडल महामंत्री नरेश सिंह, मीडिया प्रभारी खुशाल सिंह, उपाध्यक्ष किसान मोर्चा मुकेश पाठक, निर्मल तिवारी, लाल सिंह कोरंगा, आनंद धपोला, प्रशांत नागरकोटि, शेखर रावत, मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन,  एसीएमओ डॉ हरीश पोखरिया, ईई  विद्युत मोहम्मद अफजाल, लघु सिंचाई विमल सुंठा, कल्याण अधिकारी हेम तिवारी, कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, खंड विकास अधिकारी आलोक भंडारी, युवा कल्याण अधिकारी अर्जुन सिंह रावत समेत अन्य अधिकारी, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि और ग्रामीण मौजूद रहे।

Ad Ad Ad