UPSC में 102 वीं रैंक प्राप्त कल्पना पांडे के घर पहुंची जिलाधिकारी, आगामी भविष्य के लिए दी शुभकामनाएं

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर।संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) सिविल सेवा परीक्षा में 102 वी रैंक प्राप्त करने वाली कल्पना पांडे को जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने बुधवार को उनके घर गरुड़ दर्शानी खडेरिया पहुंचकर बधाई दी व आने वाले भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।



जिलाधिकारी ने कहा इस तरह के प्रतिभावान बेटियों की सफलता से अन्य युवा भी प्रेरित होते है। श्रीमती पाल ने कहा कल्पना ने पूरे देश में 102 वी रैंक हासिल कर प्रदेश और जिले का नाम रोशन किया है, उनकी सफलता से अन्य युवा भी प्रेरित हो रहे हैं। पहले से ही उत्तराखंड के युवाओं में सिविल सर्विसेज के प्रति खासा क्रेज है, जिसे कल्पना ने और बढ़ा दिया है। उन्होंने कल्पना की सफलता के लिए उनके माता-पिता सहित अन्य परिजनों को भी बधाई दी।

बता दें कि कल्पना ने 22 वर्ष की उम्र में ऑल इंडिया 102 वी रैंक प्राप्त की है। कल्पना के आईएएस बनने से उनके पैतृक गांव गरुड़, दर्शानी खडेरिया और पूरे जिले में खुशी का माहौल है। कल्पना का कहना है कि सफलता के लिए नियमित पढ़ाई जरूरी है, मेहनत के साथ परिवार का सहयोग भी आवश्यक है। कल्पना पांडे विकासखंड गरुड़ के खडेरिया गांव निवासी रमेश चंद पांडे व मंजु पांडे की सबसे छोटी बेटी है। कल्पना ने हाई स्कूल तक की शिक्षा सेंट एडम्स पब्लिक स्कूल गरुड़, इंटर की शिक्षा निर्मला कॉन्वेंट विद्यालय हल्द्वानी व उच्चशिक्षा दिल्ली विश्वविद्यालय से प्राप्त की। कल्पना की मां बैजनाथ स्वास्थ्य विभाग में तैनात है।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी राजकुमार पांडे, तहसीलदार तितिक्षा जोशी, जिला पंचायत सदस्य जर्नाजन लोहनी, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ हरीश पोखरिया आदि मौजूद थे।

यह भी पढ़ें 👉  डीएम ने किया जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण, दो डॉक्टर मिले गैर हाजिर, सीएमएस को दिए स्पष्टीकरण लेने के निर्देश