बागेश्वर नगर में रात एक बजे तक धड़ल्ले से बज रहा है डीजे, प्रभारी कोतवाल बोले बरती जाएगी सख्ती

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। सहालग का सीजन शुरू होते ही नगर और ग्रामीण क्षेत्रों में डीजे बजाने का प्रचलन बड़ गया है। तमाम नियम कानूनों के बाद भी नगर और ग्रामीण क्षेत्रों में रात एक बजे तक धड़ल्ले से डीजे बज रहा है। नगर क्षेत्र के मंडलसेरा, भूल्यूड़ा, भागीरथी, ठाकुरद्वारा, चौरासी, माजियाखेत,बिलौना में आए दिन शादियों और पार्टियों में देर रात तक डीजे बज रहा है। राज पुलिस विभाग की सिटी पेट्रोल गाडियां सड़क मार्ग से शीशे बंद कर हूटर बजाते हुए गुजर रहे हैं लेकिन उन्हें भनक तक नहीं लग रही है कि डीजे बज रहा है। देर रात तक डीजे बजने से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां कर रहे विद्यार्थियों, नवजात शिशुओं, बुजुर्गों को काफी असहज महसूस हो रहा है। देर रात तक डीजे बजने से नगर के लोग सो नहीं पा रहे हैं। कई बार सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच कर डीजे बंद तो करवाती है लेकिन संचालकों के खिलाफ कार्रवाई करने से बच रही है। ऐसे में डीजे संचालकों के हौसले बुलंद हैं और देर रात तक धड़ल्ले से डीजे बजा रहे हैं। प्रभारी कोतवाल मीना रावत ने बताया कि सूचना मिलने पर पुलिस देर रात तक डीजे बंद करवा रही है। जरूरत पड़ने पर रात 10 बजे बाद डीजे संचालित करने वाले संचालकों पर चालानी कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में जंगलों की आग पर सुप्रीम कोर्ट का सख्त रुख, मुख्य सचिव तलब, फंड और लापरवाही पर घेरा