विकास कार्यो को ठेकेदारों के भरोसे न छोड़कर स्वयं मॉनिटरिंग करें विभाग: गढ़िया, राप्रावि सूपी में बहुउद्देशीय शिविर का हुआ आयोजन

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। कपकोट विकासखंड के राजकीय प्राथमिक विद्यालय सूपी में बहुउद्देश्यीय शिविर आयोजित किया गया।  जिलाधिकारी अनुराधा पाल की अध्यक्षता में आयोजित शिविर में 17 शिकायतें और समस्याएं दर्ज की गई। जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने विभागीय अधिकारियों की उपस्थिति में अधिकांश शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया।  शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा स्टॉल लगाकर लोंगो को विकासपरक योजनाओं की जानकारी दी गयी तथा 08 दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाये गए।

जिलाधिकारी के निर्देशानुसार महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ के तहत राजकीय इंटर कॉलेज सूपी की छात्रों को मासिक धर्म में स्वच्छता के लिए जागरुक करते हुए किशोरी बालिकाओं व महिलाओं को 300 सेनेटरी नैपकिन वितरित किए गए। विकसित संकल्प यात्रा के तहत विकसित भारत बनाने का संकल्प लिया गया।



शिविर में जिला पंचायत अध्यक्ष से बसंती देव ने कहा की बहुउद्देश्यीय शिविरों के माध्यम से जनमानस की समस्याओं का उन्हीं के क्षेत्र में निस्तारण हो इसका प्रयास किया जा रहा है।  कहा कि सरकार की मंशा आम आदमी तक पहुंचकर उसकी समस्या का निराकरण करने की है। जनता द्वारा उठाई गई समस्याओं का निश्चित समय के भीतर निराकरण किया जाय। विकसित भारत संकल्प यात्रा के तहत भी लोगों को लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने सभी से अधिक से अधिक योजनाओं का लाभ उठाने की अपील की।

क्षेत्रीय विधायक सुरेश गाड़िया ने कहा कि सरकार जनता के द्वार  के अनुरूप बहुउद्देश्यीय शिविर का आयोजन किया गया है।  उन्होंने कहा अधिकारी जनता की समस्याओं को गंभीरता से लें। कहा की क्षेत्र की समस्याओं के समाधान के  कार्य किया जा रहा है। स्वास्थ्य, शिक्षा, सड़क व संचार की बेहतरीन के लिए पूरा प्रयास किया जा रहा है।  उन्होंने कहा हमें अच्छे समाज के निर्माण व क्षेत्र के विकास के लिए आगे आना होगा। उन्होंने  जनता से विभिन्न लाभकारी योजनाओं का लाभ उठाने की अपील करते हुए शिविरों में बढ़-चढ़कर भागीदारी करने को कहा।  उन्होंने अधिकारियों से शिविर में आयी शिकायतों व समस्याओं पर विशेष अमल करने को कहा।
विधायक ने कहा कि विभाग योजना बनाते समय लोगों के हितों को  ध्यान में रखे, तथा कार्य की गुणवत्ता में विशेष ध्यान रखा जाय। कार्यो को ठेकेदारों के भरोसे न छोड़कर विभाग स्वयं मॉनिटरिंग करें। जिन सड़को के प्रस्ताव बनने है, उसे समय से बनाया जाय। जिन कार्यों में स्वीकृत मिल चुकी है, उनमें कार्य शीघ्र प्रारंभ किए जाए। उन्होंने कहा विकास में क्षेत्रीय जनता को सहभागी बनना होगा। जब हम सजग होंगे तभी देश विकसित बनेगा।

यह भी पढ़ें 👉  अब सीटी स्कैन के लिए नहीं लगानी पड़ेगी बाहरी जिलों की दौड़, जिला अस्पताल में हुआ सीटी स्कैन मशीन का शुभारंभ

अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी अनुराधाा पाल ने कहा कि सरकार की मंशा है कि लोंगो की समस्याओं का समाधान उनके क्षेत्र जाकर किया जाए, इसी के तहत दूरस्थ क्षेत्रों में बहुउद्देशीय शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने  विश्वास दिलाया कि ग्रामीणों द्वारा उठाई गई समस्याओं व मांग पत्रों का समयबद्ध निराकरण किया जाएगा।  कहा कि अधिकारी शिविर में उठी समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर निराकरण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने रोस्टर के अनुसार चल रही विकसित संकल्प यात्रा का लाभ लेने की भी अपील की। उन्होंने कहा शिक्षा स्वास्थ्य के साथ ही मूलभूत सुविधाओं पर निरंतर कार्य हो रहा है। क्षेत्र के विकास में सभी को सकारात्मक रहते हुए कार्य करना होगा।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग: वनाग्नि की चपेट में आने से चार वन कर्मियों की मौत, सीएम धामी ने घटना पर जताया दुख

शिविर में पूर्व प्रधान लाल सिंह टाकुली ने दैवीय आपदा से हुए नुकशान का सुरक्षात्मक कार्य कराने, मुनार-गासी मोटर मार्ग निर्माण से नाप भूमि में आये मलवे को हटाने की मांग की। ग्राम प्रधान तरसाल पतियासाल ने गांव में खराब टांसफार्मर बदलवाने की मांग की। भावना देवी ग्राम प्रधान हरकोट ने जूनियर हाइस्कूल में अध्यापकों की तैनाती कराने के साथ ही विद्यालय में मरम्मत कार्य कराने का अनुरोध किया। बलवंत सिंह ने राजकीय इंटर कॉलेज में विभिन्न विषयों के अध्यापकों की तैनाती का प्रार्थना पत्र दिया। सूपी के ग्रामीणों ने क्षेत्र में संचार व्यवस्था सुचारू रखने की मांग की वहीं हरकोट के ग्रमीणों ने निर्माणाधीन मोटर मार्ग के शीघ्र गुणवत्तापूर्ण निर्माण किए जाने की मांग करते हुए अन्य लोगों ने अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं को रखा, जिस पर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही के लिए निर्देशित किया गया।

  शिविर में मुख्य विकास अधिकारी आरसी तिवारी, प्रभागीय वनाधिकारी उमेश तिवारी,  ग्राम प्रधान सूपी  प्रेम देवी, पतियासार नरेश सिंह, वैछम ममता देवी,रिखाडी तारा देवी, झूनी कुंदन सिंह, क्षेत्र पंचायत सदस्य रेखा देवी, चरण टाकुली, सीएमओ डॉ डीपी जोशी,  मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, उद्यान अधिकारी आरके सिंह, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी डॉ कमल पंत, ईई जल संस्थान सीएस देवडी, जल निगम वीके रवि, विद्युत मोहम्मद अफजाल, लोनिवि एके पटेल, पीएमजीएसवाई अमरीश रावत, खंड विकास अधिकारी ख्याली राम, समाज कल्याण अधिकारी हेम तिवारी, कार्यक्रम अधिकारी अनुलेख बिष्ट, मस्त्य अधिकारी मनोज मियान समेत अन्य अधिकारी, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि, ग्रामीण मौजूद रहे।