सरकार जनता के द्वार: बहुउद्देशीय शिविर में 19 समस्याएं हुई दर्ज, 12 का मौके पर निदान

ख़बर शेयर करें -

महालक्ष्मी किट और राहत चेक भी किए गए वितरित

बागेश्वर। सरकार जनता के द्वार के तहत राइंका बंतोली में आम जनता की समस्याओं के निराकरण के लिए जिलाधिकारी अनुराधा पाल की अध्यक्षता में बहुउदेद्शीय शिविर लगाया गया, जिसमें क्षेत्र के विभिन्न गांवों से आये ग्रामीणों ने अपने क्षेत्र की समस्याओं से आवगत कराते हुए समस्याओं के निदान की मांग की। शिविर में ग्रामीणों ने विभिन्न विभागों से संबंधित 19 समस्याओं से अवगत कराया जिसमें से  12 समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण किया गया। समस्या सुनते हुए सचिव समाज कल्याण बृजेश कुमार संत ने शेष समस्याओं का एक माह के भीतर निस्तारण करने के निर्देश दिए। शिविर में विभिन्न विभागों द्वारा स्टॉल लगाकर लोंगो को विकासपरक योजनाओं की जानकारी दी गयी तथा 05 लाभार्थियों को महालक्ष्मी किट व 05 लाभार्थियों को सीएम राहत कोष के चैक वितरित किए गए।



शिविर में दर्जा राज्य मंत्री शिव सिंह बिष्ट ने कहा कि प्रदेश सरकार जनता की समस्याओं के लिए हमेश तत्पर रही है। जनता की समस्याओं के निदान के लिए इस तरह के शिविर आयोजित किए जा रहे है। उन्होंने ग्रामीणों से सरकार की गोट वैली योजना की जानकारी देते हुए योजना का लाभ उठाने की अपील की। साथ ही पशुओं की टीकाकरण व बीमा कराने की अपील की। उन्होंने पीएम विश्वकर्मा योजना की जानकारी देते हुए योजना का भी लाभ उठाने की अपील की। विधायक पार्वती दास ने सरकार की योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि सरकार की मंशा आम आदमी तक पहुंचकर उसकी समस्या का निराकरण करने की है। सचिव समाज कल्याण बीके संत ने कहा कि जनता की समस्याओं का निश्चित समय के भीतर निराकरण किया जाएगा। बताया कि जो समस्या जिला स्तर की है उन्हें जिलाधिकारी द्वारा निस्तारित किया जाएगा तथा शासन की समस्याओं को जिलाधिकारी द्वारा शासन स्तर पर भेजा जाएगा जहां से उनका निराकरण किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  इंटर में ललित रहे टॉपर, हाईस्कूल में निकिता, अंकित, हर्षित ने किया टॉप

अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी अनुराधाा पाल ने कहा कि सरकार की मंशा है कि लोंगो की समस्याओं का उनके क्षेत्र अथवा गांवों में जाकर निराकरण किया जाए, इसी के तहत दूरस्थ क्षेत्रों में बहुउद्देशीय शिविरों का आयोजन किया जा रहा है, उन्होंने जनता को विश्वास दिलाया कि समस्याओं का एक माह में निराकरण किया जाएगा। जनता से अपील की कि वे बहुउद्देशीय शिविरों में उपस्थित होकर विभागीय योजनाओं की जानकारियां ले व जागरूक होकर सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की लाभ लें। उन्होंने कहा कि अधिकारी शिविर में उठी समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर निराकरण करना सुनिश्चित करें, ताकि लोंगो को अनावश्यक परेशानियों का सामना न करना पडें। लोंगो की छोटी-छोटी समस्याओं का स्थानीय स्तर पर निस्तारण किया जाना  सुनिश्चित करें।

शिविर में कफलढूंगा के ग्राम प्रधान विशन नाथ ने गांव में पेयजल समस्या से अवगत कराते हुए क्षतिग्रस्त पेयजल योजना की मरम्मत किए जाने की मांग की। जिस पर जिलाधिकारी ने जल निगम को गांव का निरीक्षण करके समस्या का निदान करने के निर्देश दिए। कोटफुलारी के ग्राम प्रधान ने गांव में पेयजलसंकट से अवगत कराया। देवी दत्त पाठक, गोपाल सिंह, हरीश गिरी आदि ने अपने क्षेत्र की विभिन्न विभागों से संबंधित समस्याओं से अवगत कराते हुए समस्याओं के निदान की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने आवश्यक कार्रवाई का आश्वासन देते हुए कहा कि एक माह के भीतर समस्याओं का निराकरण कर दिया जाएगा। देवनाई के ग्रामीणों ने दर्जा राज्य मंत्री के सम्मुख क्षेत्र में सीएससी सेंटर खोलने की मांग भी राखी । शिविर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा तीन दिव्यांग, 70 लोगों को दवा वितरित करते हुए सात लोगों का रक्त परीक्षण किया गया। समाज कल्याण विभाग ने दो विधवा, दो वृद्धावस्था, 15 अटल आवास, व एक दिव्यांग का आवेदन कराया साथ ही विभागीय योजनाओं की जानकारी दी। खाद्य पूर्ति विभाग द्वारा 12 लोगों को, पंचायत राज विभाग ने पांच लोगों, ग्राम्य विकास विभाग ने 15, श्रम विभाग द्वारा 17, सेवायोजन विभाग ने सात, राजस्व विभाग द्वारा सात , सैनिक कल्याण विभाग द्वारा तीन, बाल विकास द्वारा पांच, उद्यान विभाग द्वारा 52, पशुपालन द्वारा 53, कृषि विभाग द्वारा 25 लोगों को योजनाओं से लाभान्वित किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  जख्मी हालत में मिला गुलदार, वन विभाग ने किया रेस्क्यू (वीडियो)

शिविर में ब्लॉक प्रमुख पुष्पा देवी, जिला पंचायत सदस्य जर्नाजन लोहनी, सुनील दोसाद, गोपाल किरमोलिया, अपर आयुक्त खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले पीएस पांगती, मुख्य विकास अधिकारी आरसी तिवारी, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, उपजिलाधिकारी मोनिका, जिला महामंत्री भाजपा घनश्याम जोशी, इंद्र सिंह बिष्ट, उमेश सिंह रावत, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन, अधि0अभि0 जल संस्थान सीएस देवडी, जल निगम वीके रवि, पीएमजीएसवार्इ वृजेंद्र कुमार समेत अन्य अधिकारी, क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि व आमजनता मौजूद थी।