अग्निवीर भर्ती के नाम पर ठगी करने वाले गैंग का भंडाफोड़, पुलिस ने फर्जी सूबेदार किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड : सेना में अग्निवीर बनाने के नाम पर बेरोजगार नवयुवको से लाखो की ठगी करने वाला फर्जी आर्मी सूबेदार गिरफ्तार कर लिया गया। उसके कब्जे से कई लोगो के शैक्षिक दस्तावेज, अग्निवीर परीक्षा के एडमिट कार्ड, मोबाईल फोन, आर्मी पहचान पत्र, 12 अदद क्रेडिट कार्ड, पैन कार्ड, आधार कार्ड , विभिन्न बैंको के करीब 41 लाख रुपए के 26 चैक व एक मारूति आल्टो कार बरामद हुई है।

एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने बताया कि तपस मण्डल निवासी प्रतापपुर नम्बर 4, थाना नानकमत्ता जनपद ऊधमसिंह नगर ने विक्की मण्डल निवासी शक्तिफार्म, सितारगंज तथा पंकज सिंह बडेला निवासी ग्राम मछियाड, थाना रीठा साहिब, जनपद चम्पावत द्वारा आर्मी में भर्ती कराने के नाम पर खुद के व अन्य लोगो के ऑरिजनल प्रमाण पत्र व 50 हजार रुपये नकद लेने की शिकायत की थी।

भर्ती न होने पर अपने रुपये व प्रमाण पत्र वापस मांगने पर दिनांक गत वर्ष दो नवंबर को आरोपियों ने उन्हें जयनगर दिनेशपुर बुलाकर गाली गलौच, मारपीट करने व तमंचा दिखाकर जान से मारने की धमकी दी।चार नवंबर को ही पुलिस ने जगदीशपुर मोड दिनेशपुर से आरोपी विक्की मण्डल तथा पंकज सिंह को गिरफ्तार कर लिया था। इस प्रकरण में सरगना सूबेदार गोविंद सिंह नयाल फरार चल रहा था और उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमे लगातार प्रयासरत थी ।

यह भी पढ़ें 👉  नाबालिग से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

रानीखेत अल्मोडा, बरेली आदि स्थानों पर दविश दी गयी परन्तु शातिर अभियुक्त लगातार अपना ठिकाना बदलता रहा लेकिन दिनेशपुर पुलिस के हाथ सफलता लग ही गई। नाई गांव, शहरफाटक थाना मुक्तेश्वर, नैनीताल निवासी सूबेदार गोबिन्द सिंह नयाल को हल्द्वानी में बृजलाल हॉस्पिटल के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। उसकी आल्टो कार के आगे पीछे शीशे पर डिफेंस लिखा हुआ था इसके साथ ही उसके पास से फर्जी आई कार्ड भी मिला है।

यह भी पढ़ें 👉  इंटर में ललित रहे टॉपर, हाईस्कूल में निकिता, अंकित, हर्षित ने किया टॉप