डॉ. दुबे को मिले सरस्वती भट्ट स्मृति और शंकर लाल साह स्मृति लेखन पुरस्कार, साहित्य लेखन में उत्कृष्ट कार्य पर मिला सम्मान

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। पंडित बीडी पांडेय परिसर के हिंदी और कला संकायाध्यक्ष और साहित्यकार डॉ. हेम चंद्र दुबे को 
सरस्वती भट्ट स्मृति बाल नाटक लेखन पुरस्कार योजना और शंकर लाल साह स्मृति कुमाऊंनी निबंध लेखन पुरस्कार से नवाजा गया है। उन्हें कुमाऊंनी साहित्य लेखन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए पिथौरागढ़ में आयोजित कुमाऊंनी भाषा सम्मेलन में सम्मानित किया गया।
पिथौरागढ़ में चार से छह नवंबर तक आयोजित हो रहे कुमाऊंनी भाषा सम्मेलन में शनिवार को विधायक बिशन सिंह चुफाल के हाथों डॉ. दुबे को सरस्वती भट्ट स्मृति बाल नाटक लेखन पुरस्कार योजना और शंकर लाल साह स्मृति कुमाऊंनी निबंध लेखन पुरस्कार मिले। शिक्षण के अलावा साहित्य के क्षेत्र में सक्रिय डॉ. दुबे अब तक कुमाऊंनी में चार और हिंदी में पांच पुस्तकों की रचना कर चुके हैं। लोक साहित्य में भी उनकी एक पुस्तक प्रकाशित हो चुकी है। उन्होंने लेखन की शुरूआत 1987 में समाचार पत्रों में पत्र लेखन से की। बाद में वह हिंदी, कुमाऊंनी साहित्य लेखन करने लगे। साहित्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य को देखते हुए उन्हें यह पुरस्कार प्रदान किए गए हैं। उनकी उपलब्धि पर बीडी पांडेय परिसर की निदेशक डॉ. दीपा कुमारी, प्रभारी प्राचार्य डॉ. भगवती नेगी, डॉ. जीवन सिंह गढ़िया समेत परिसर के सभी प्राध्यापकों और जिले के साहित्यकारों ने खुशी जताई है।

यह भी पढ़ें 👉  पांच जिलों में हो सकती है भारी बारिश, ओलावृष्टि, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट