डीएम ने ली जिला योजना की बैठक, रोजगारपरक योजनाएं रखने के दिए निर्देश

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। जिलाधिकारी अनुराधा पाल की अध्यक्षता में जिला योजना में विभिन्न विभागों को धनराशि अनुमोदन हेतु योजना प्रस्तावों पर विस्तृत चर्चा की गयी। उन्होंने जिला योजना में रोजगारपरक योजनाएं रखने को कहा ताकि जनता की आर्थिकी मजबूत हो सके।

जिलाधिकारी ने कहा कि चालू वित्तीय वर्ष में जनपद को जिला योजना में  5519.19 लाख की धनराशि प्राविधानित हुई है। उन्होंने कृषि, उद्यान, पशुपालन, मौन पालन, मत्स्य पालन विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये प्रस्ताव इस प्रकार बनायें जो आम जनमानस के विकास से जुडे हों। उन्होेंने कहा ग्रामीण क्षेत्रों मंे अधिक से अधिक पॉलीहाउस, मत्स्य, मौन पालन, कीवी, उद्यान योजना को कलस्टर के रूप में बढावा दिया जाय, साथ ही काश्तकारों के ट्रैनिंग के साथ ही प्रगतिशील किसानों के उद्यानों का अवलोकन भी कराया जाय। उन्होंने कहा पशुपालन के साथ ही डेयरी उद्योग को बढावा देने के लिए किसानों को प्रोत्साहित करें, पशुपालन, दुग्ध को बढावा देने के लिए अधिकारी स्थलीय भ्रमण कर किसानों को सरकार द्वारा जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दें ताकि अधिक से अधिक किसानों को इन योजनाओं का लाभ मिल सके।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग: मशहूर लोकगायक प्रह्लाद मेहरा का निधन, लोक संगीत जगत में शोक की लहर

जिलाधिकारी ने कहा जिला योजना में तीन लाख की धनराशि से कम के कार्य प्रस्तावित नहीं किये जाएं। नई योजनाओं के प्रस्ताव में अनुमोदन से पहले चालू योजनाओं जिन पर कार्य गतिमान है व कार्य अभी तक पूर्ण नहीं हुआ है उन कार्य को पूर्ण  करना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा जिला योजना में वही कार्य प्रस्तावित की जाए जिनमें कार्यस्थल पर कोई विवाद नहीं हो। उन्होंने अधिकारियों से कहा योजनाओं का फीडबैक देना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जनपद में योजना के अन्तर्गत पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटन स्थलों का विकास व सूक्ष्म लघु उद्योगों, खेलों को बढावा देने हेतु कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को दिये। जिलाधिकारी ने कहा जिला योजना में जो भी योजनायें प्रस्तावित करेंगें उनका औचित्य देना भी सुनिश्चित करेंगे। 

यह भी पढ़ें 👉  डीएम ने दिए जंगल जलाने वाले अराजक तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने के निर्देश

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. डीपी जोशी, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. रविन्द्र चन्द्रा, जिला उद्योन अधिकारी आर.के.सिंह, मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, जिला पर्यटन विकास अधिकारी कीर्ति आर्या, जिला क्रीड़ा अधिकारी सीएल वर्मा, युवा कल्याण अधिकारी कीर्ति वर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट सहित संबंधित अधिकारी मौजूद थे।