जिला प्रभारी मंत्री सौरभ बहुगुणा की अध्यक्षता में जिला योजना की बैठक, समिति ने 55 करोड़ से अधिक की योजनाओं को किया स्वीकृत

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। जिले के प्रभारी मंत्री/पशुपालन, दुग्ध विकास, मत्स्य पालन, गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग प्रोटोकॉल, कौशल एवं सेवायोजन मंत्री सौरभ बहुगुणा की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में जिला योजना समिति की बैठक हुई। बैठक में  55 करोड, 19 लाख, 19 हजार की जिला योजना परिव्यय के सापेक्ष योजनाओं को जिला योजना समिति ने स्वीकृति प्रदान की।

प्रभारी मंत्री बहुगुणा ने जनपद के विकास में सभी अधिकारी एवं जनप्रतिनिधियों से अपनी अहम भूमिका निभाने को कहा। उन्होंने कहा कि विकास कार्यो में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देते हुए समय से धरातल पर उतारें, ताकि जनता को योजनाओं का त्वरित लाभ मिल सके। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जनप्रतिनिधियों के फोन उठायें यदि वे किसी कारण फोन नहीं उठा पाते है तो पुन: कॉल अवश्य करें, साथ ही उन्होंने विभागीय कार्यक्रमों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को बुलाने के निर्देश भी दिए।  उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य और शिक्षा के साथ ही ग्रामीणों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने एवं स्वरोजगार उपलब्ध कराने हेतु कृषि, उद्यान, पशुपालन, दुग्ध, मत्स्य पाल व पर्यटन आदि पर विशेष ध्यान दिया जायेगा।

प्रभारी मंत्री ने कहा जनपद को विकास का लक्ष्य लेकर आगे बढाना है इसलिए सबकों साथ लेकर जनपद का सर्वागीण विकास किया जायेगा। उन्होंने कहा विकास कार्यो में गुणवत्ता व पारदर्शिता बनी रहे, इसलिए अधिकारी अधिक से अधिक स्थलीय निरीक्षण करना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि जिला योजना के पुराने कार्यो की देनदारी भुगतान को किया जायेगा तथा योजना में ऐसे प्रस्ताव रखे जाए जो इसी वर्ष अथवा दो वर्ष में पूर्ण हो सकें। उन्होंने लंपी बीमारी पीडित पशुओं का वैक्सीनेशन के समय बीमा करने के निर्देश मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को दिए व काश्तकारों को टैक्टर पॉवर ट्रिलर-विडर प्रोवाइडर द्वारा जनपद में सर्विस सेंटर खुलवाने के निर्देश मुख्य कृषि अधिकारी को दिए। जो प्रोवाइडर सर्विस सेंटर नहीं खोलेगे उन्हें ब्लैक लिस्ट करने के निर्देश भी दिए। उन्हेांने उरेडा को जनपद में लगी सोलर लाइटों की नियमित चैकिंग कर मरम्मत कराने के निर्देश दिए। 

यह भी पढ़ें 👉  इंटर में ललित रहे टॉपर, हाईस्कूल में निकिता, अंकित, हर्षित ने किया टॉप

विधायक सुरेश गडिया ने कहा कि समिति द्वारा जो योजनायें अनुमोदित की है,उन्हीं में प्राथमिकता से कार्य कर समय से धनराशि व्यय की जाए व कार्यो की सूचना जनप्रतिनिधियों को भी  दी जाए, ताकि कार्यो में जनप्रतिनिधि व जनता पैनी नजर रख सके व कार्य गुणवत्तापूर्वक समय से पूरे भी हो सके। उन्होंने जनपद के विकास में सभी से सहयोग की अपील की।

यह भी पढ़ें 👉  जख्मी हालत में मिला गुलदार, वन विभाग ने किया रेस्क्यू (वीडियो)

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने समिति के सदस्यों का आभार व्यक्त करते हुए आश्वस्त किया कि जनपद के चौहमुखी विकास में सभी का सहयोग अपेक्षित है तथा उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे प्रभारी मंत्री द्वारा दिए गए निर्देशों का अनुपालन करना सुनिश्चित करेंगे तथा कार्यों में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें।

बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष बसंती देव, उपाध्यक्ष नवीन परिहार, अध्यक्ष नगर पंचायत कपकोट गोविन्द बिष्ट, नगर पालिका बागेश्वर सुरेश खेतवाल, ब्लाक प्रमुख गोविंद सिंह दानू, पुष्पा देवी, हेमा बिष्ट, सदस्य जनार्दन लोहनी, गोपा देवी, गोपाल सिंह, चंदन सिंह, नरेन्द्र लाल, पूरन सिंह गडिया, धीरेन्द्र परिहार, जिलाध्यक्ष भाजपा इन्द्र सिंह फर्श्वान, पूर्व अध्यक्ष शिव सिंह बिष्ट, महामंत्री संजय परिहार सहित पुलिस अधीक्षक हिमांशु वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. डीपी जोशी, जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह, मुख्य कृषि अधिकारी गीतांजलि बंगारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. आर चन्द्रा, अर्थ एवं संख्याधिकारी दिनेश रावत समेत जनपदस्तरीय अधिकारी मौजूद थे।