टैम्पो ट्रेवलर पर गिरा चट्टानी मलवा,4 लोगों की मौत

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड में पिछले दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश के कारण कई जगह से भूस्खलन की खबरें आ रही है। इस बीच मौसम विभाग ने राज्य में कई क्षेत्रों में भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। भारी बारिश के चलते राज्य में कई मार्ग बंद है। जिसके चलते मंगलवार को स्कूलों में अवकाश की घोषणा की गई है। इस बीच उत्तरकाशी से बहुत ही दुःखद खबर आ रही है।
उत्तरकाशी में गंगोत्री नेशनल हाईवे में सूनगर के पास एक टैम्पो ट्रेवल्स और दो छोटे वाहनों पर चट्टानी मलवा गिरने से 4 तीर्थ यात्रियों की मौत की खबर है। इस हादसे में 6 लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं,जबकि 22 लोगों के इन वाहनों में सवार होने की सूचना है। हादसे की सूचना पर रेस्क्यू के लिए मौके में पुलिस-प्रशासन,एसडीआएफ और अग्निशमन की टीमें पहुंच गई है।आपको बता दें कि उत्तराखंड में मौसम विभाग ने भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। राज्य में कई जगह स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए गए है। उत्तरकाशी की बात करें तो लगातार बारिश के बाद गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग भटवाडी से आगे कैप्टन ब्रिज,हेल्गूगाड,सुनगर,गंगनानी,सुक्खी नाला और हर्षिल के पास बाधित है। जिसके कारण इन मार्गों के आसपास कई तीर्थ यात्री और वाहन फंसे हुए है। कई जगह मार्ग क्षतिग्रस्त हो गए है। जिन्हें खोलने के लिए पुलिस-प्रशासन और बीआरओ की टीमें लगातार प्रयास कर रही है।

बीआरओ,पुलिस-प्रशासन और एसडीआएफ के जवान निरंतर इन क्षेत्रों में फंसे तीर्थ यात्रियों को निकालने के प्रयास में है। गंगोत्री नेशनल हाईवे में सूनगर के पास टैम्पो ट्रेवल्स और दो छोटे वाहनों पर चट्टानी मलवा गिरने से जिन तीर्थ यात्रियों की मौत हुई है। उनके परिजनों से संपर्क का प्रयास किया जा रहा है। फिलहाल यह मार्ग अभी बंद है।उत्तराखंड में स्कूल बंद

उत्तराखंड में लगातार हो रही भारी बारिश के बाद मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है। जिसके बाद राज्य के 9 जिलों में स्कूल बंद की घोषणा की गई है। स्कूलों के साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों को भी मंगलावर को अवकाश घोषित किया गया है। चमोली में 11 और 12 जुलाई का अवकाश घोषित किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार में उत्तराखंड में मंगलवार को रेड अलर्ट जारी किया गया है। जिसके तहत बताया गया हैं की आज पूरे राज्य में भारी बारिश होने की आशंका है,लोगों को सवाधानी बरतने के साथ-साथ प्रशासन की गाइडलाइन का पालन करने की हिदायत दी है।

यह भी पढ़ें 👉  अब सीटी स्कैन के लिए नहीं लगानी पड़ेगी बाहरी जिलों की दौड़, जिला अस्पताल में हुआ सीटी स्कैन मशीन का शुभारंभ