केबल पुल हादसे में 132 हुई मृतकों की संख्या, 177 को किया गया रेस्क्यू, पुल की देखरेख करने वाली कंपनी पर केस दर्ज

ख़बर शेयर करें -

गुजरात के मोरबी में रविवार 30 अक्टूबर को केबल पुल टूटने की घटना में मृतकों का आंकड़ा 132 हो गया है। हादसे के बाद पूरी रात चले रेस्क्यू ऑपरेशन चला। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सेना और स्थानीय प्रशासन की टीम अब भी नदी में खोजबीन कर रही है। गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संधवी ने मृतकों की संख्या की पुष्टि करते हुए पुल की देखरेख कर रही कंपनी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किए जाने की जानकारी दी है। हादसे में मरने वालों को केंद्र सरकार की ओर सर दो और राज्य सरकार की ओर से चार लाख के मुआवजे का ऐलान किया गया है।


रविवार की शाम को मोरबी जिले के मच्छू नदी पर बने 140 साल पुराने केबल पुल को मरम्मत के बाद तीन दिन पहले खोला गया था। लोग भारी संख्या में रविवार की छुट्टी का आनंद लेने वहां आए थे। हादसे के वक्त 100 लोगों की क्षमता वाले पुल पर करीब 400 लोग मौजूद थे। अचानक पुल भरभराकर गिर गया और लोग नदी में गिर गए।

यह भी पढ़ें 👉  बागेश्वर में हुई राष्ट्रीय स्तर की साइकिल रेस, गढ़वाल के साइकिलिस्टों का रहा दबदबा, रेडक्रॉस का भी मिला सहयोग