मानकों के अनुसार ही होगा खड़िया खनन, रात को खनन करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई: डीएम

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। डीएम अनुराधा पाल ने कहा कि जिले में खनन मानकों के अनुसार ही होगा और अवैध खनन पूर्ण प्रतिबंधित रहेगा। निर्धारित समय में ही खनन कार्य किया जायेगा। रात को खनन कार्य करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यह बात उन्होंने जिला सभागार में आयोजित जिला अवैध खनन निरोधक समिति की बैठक लेते हुए कही।
  जिलाधिकारी पाल ने समिति के सभी सदस्य ग्राम प्रधानों से कहा कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में माइंस में किसी प्रकार की अनियमितता साथ ही नदी-नालों, गाड़-गधेरों, जल स्रोतों, गूलों, पैदल रास्तों में खनन मलुवा डालने पर तुरंत सूचना दें। ताकि संबंधित के खिलाफ तत्काल कार्यवाही की जा सके। कहा कि खनन सत्र प्रारम्भ होने वाला है, बिना तोल के किसी भी खनन वाहन को खनन सामग्री ले जाने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने एआरटीओ को काण्डा, रीमा, कपकोट सड़क मार्ग पर धर्मकांटे वालों से वार्ता करने के निर्देश भी दिये। उन्होंने माइंस में खनन में कार्य करने वाले श्रमिकों का शतप्रतिशत सत्यापन करने के निर्देश पुलिस व राजस्व अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि खनन क्षेत्र में श्रमिकों के लिए आवास, शौचालय, पेयजल, विद्युत व स्वास्थ्य व्यवस्थायें भी खनन स्वामी अनिवार्य रूप से करना सुनिश्चित करेंगें।

खनन समिति के सदस्यों ने आबादी क्षेत्र, नदी-नालों, जल स्रोतों, पैदल रास्तों, मंदिर के पास खनन पर प्रतिबंध लगाये जाने के साथ ही अधिकारियों द्वारा खनन क्षेत्रों का भी निरीक्षण करने तथा क्षेत्रवासियों की खनन संबंधित समस्यायें सुनने व उनके समाधान का सुझाव दिया। साथ ही जेसीबी मशीनों से खनन रोकने के साथ ही निर्धारित चिन्हित स्थानों पर भी भण्डार कराने का भी सुझाव दिया। ग्राम प्रधान जगदीश बाफिला ने खनन क्षेत्र के ग्राम सभाओं में खनन न्यास के कार्य विकास खण्ड के माध्यम से कराने व गॉव में ही अथवा वन पंचायत में पौधा रोपण कराने तथा श्रमिकों का सत्यापन कराने व क्षेत्रीय जनता को ही रोजगार देने का सुझाव दिया।

यह भी पढ़ें 👉  इंटर में ललित रहे टॉपर, हाईस्कूल में निकिता, अंकित, हर्षित ने किया टॉप

बैठक में उप जिलाधिकारी मोनिका, पुलिस उपाधीक्षक अंकित कंडारी, खान अधिकारी विरेन्द्र सिंह, एआरटीओ पंकज श्रीवास्तव, समिति सदस्य वृक्ष मित्र किशन सिंह मलड़ा, प्रधान बलवंत सिंह, जगदीश बाफिला, मनोज भौर्याल सहित अनेक सदस्य प्रधान मौजूद थे।

यह भी पढ़ें 👉  जख्मी हालत में मिला गुलदार, वन विभाग ने किया रेस्क्यू (वीडियो)