तुर्की में आये भूकंप के बाद लापता है उत्तराखंड का विजय, परिजनों ने लगाई मदद की गुहार

ख़बर शेयर करें -

बुधवार को तुर्की में लापता हुए युवक के बड़े भाई अन्य परिजनों के साथ कोटद्वार तहसील पहुंचे। उन्होंने उसके भाई के तुर्की के मलबे में तब्दील हुए होटल से लापता होने की लिखित सूचना दी।

तुर्की में 6 फरवरी को आए भूकंप में उत्तराखंड के कोटद्वार निवासी एक युवक भी लापता है।भूकंप के बाद से अब तक उसका कुछ पता नहीं चला है। युवक के लापता होने से परिजन परेशान हैं।उन्होंने जिला प्रशासन, विधानसभा अध्यक्ष और मुख्यमंत्री से उसे खोजने की गुहार लगाई है. बुधवार को तुर्की में लापता हुए युवक के बड़े भाई अन्य परिजनों के साथ कोटद्वार तहसील पहुंचे।उन्होंने उसके भाई के तुर्की के मलबे में तब्दील हुए होटल से लापता होने की लिखित सूचना दी।
तहसील पहुंचे जयहरीखाल ब्लॉक के ग्राम दकसुण, हाल निवासी नेगी चौक कोटद्वार निवासी अरुण कुमार गौड़ ने बताया कि उसका छोटा भाई विजय कुमार गौड़ (36) बेंगलुरु की ऑक्सीप्लांट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में नौकरी करता है। 22 जनवरी को वह कंपनी के काम से तुर्की गया था। वहां वह‘होटल अवसर’ में ठहरा हुआ था।6 फरवरी की सुबह 4:00 बजे आए भूकंप में उक्त होटल ध्वस्त हो गया है।

सोमवार को जब उन्होंने टीवी पर तुर्की में भूकंप आने की खबर देखी, तो उन्हें भाई की चिंता हुई।उन्होंने फोन लगाया तो किसी ने फोन रिसीव नहीं किया।बाद में टीवी पर प्रसारित खबरों से पता चला कि जिस होटल में उनका भाई विजय रुका हुआ था, वह भी भूकंप से धराशायी हो गया है।तब से उसका कहीं पता नहीं चल रहा है।उसके मोबाइल फोन पर घंटी जा रही है, लेकिन कोई फोन रिसीव नहीं कर रहा है।

तुर्की में भूकंप से अब तक 18991 लोगों की जान जा चुकी है. 35 हजार से ज्यादा लोगों के घायल होने की खबर है। वहीं, सीरिया में 3,377 लोग मारे गए और 4 हजार से ज्यादा जख्मी हैं।

यह भी पढ़ें 👉  लोगों के कार्यों को उलझाने की नहीं सुलझाने की प्रवृति बनाएं अधिकारी: सीएम