अलग विकासखंड की मांग को होगा संघर्ष, पुनर्गठित हुई विकास समिति

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। कांडा को अलग विकासखंड बनाने की 66 साल पुरानी मांग फिर उठने लगी है। क्षेत्रवासियों ने ब्लॉक की मांग के लिए संघर्ष करने का ऐलान कर दिया है। भद्रकाली के पंचायत घर में एकत्र होकर ग्रामीणों ने कांडा कमस्यार विकास समिति का पुनर्गठन किया। इस दौरान सदस्यों ने प्रदर्शन करते हुए तय किया कि समिति के बैनर तले ब्लॉक की मांग के लिए आंदोलन के माध्यम से सरकार पर दबाव बनाएगी।

1956 से लगातार कांडा कमस्यार पृथक विकासखंड की मांग उठ रही है। समय-समय पर क्षेत्रवासियों ने बैठक की, शासन प्रशासन को ज्ञापन भी दिए। रविवार को कांडा कमस्यारवासियों ने भद्रकाली पंचायत घर में बैठक का आयोजन कर कांडा कमस्यार विकास समिति कार्यकारी का पुनर्गठन किया। एड. गोविंद सिंह भंडारी को कार्यकारिणी का अध्यक्ष, महेश सिंह राठौर और हरीश सिंह डसीला को उपाध्यक्ष, सुरेश रावत को सचिव, राजेंद्र सिंह गैड़ा को कोषाध्यक्ष, पंकज डसीला को मीडिया प्रभारी, एड. दिवान सिंह माजिला को जिला संयोजक चुना गया। डॉ नंद राम, भवान सिंह धपोला और खड़क सिंह धामी संरक्षक बने। बैठक में तय हुआ कि 24 जुलाई को कार्यकारिणी की अगली बैठक खातीगांव में सम्पन्न होगी। इस मौके पर सूरज कुमार गोपाल सिंह राठौर राजेंद्र सिंह भंडारी राजेंद्र सिंह धपोला राजेंद्र सिंह धामी रमेश सिंह बोरा सहित सभी जनता उपस्थित रहीं।

यह भी पढ़ें 👉  चंपावत में आयोजित हुआ एनयूजे का प्रदेश स्तरीय ‘मीडिया संवाद’, पत्रकारों के हित से जुड़े मामलों पर हुई चर्चा