जंगल की आग बुझाने में लगे दो युवकों की मौत

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड में तापमान बढ़ने से जंगलों में आग लगने की घटनाओं में इजाफा होने लगा है ‌।पौड़ी जिले के चौबट्टाखाल क्षेत्र में जंगल में लगी आग में दो युवक फंस गए। जहां इनकी मृत्यु हो गई। जानकारी के मुताबिक दोनों युवक जंगल में लगी आग को बुझाने की कोशिश करते समय झुलसने से मारे गए। स्थानीय राजस्व पुलिस घटना की जांच कर रही है। वहीं एसडीएम पौड़ी ने घटना की मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए हैं।

जानकारी के मुताबिक दरगास तोक के जंगल में लगी आग को बुझाने के लिए दो युवक गए थे। ये युवक इनमें कंडूली गांव निवासी कुलदीप कुमार (26) पुत्र दीनदयाल प्रसाद नौडियाल और सेडियागाड़ निवासी विकास रावत पुत्र महिपाल रावत थे।

जब दोनों युवक काफी देर हो जाने के बाद भी वापस अपने घर नहीं आए तो ग्रामीणों ने खोजबीन की। जंगल में कुलदीप झुलसी अवस्था में मृत मिला जबकि विकास जान बचाने को एक पेड़ पर चढ़ गया था। उसे घायल अवस्था में 108 एंबुलेंस की मदद से पीएचसी पोखड़ा में भर्ती कराया। यहां से उसे सीएचसी सतपुली रेफर किया गया। लेकिन तब तक वह भी दम तोड़ चुका था। मारे गए दोनो युवा दिल्ली में प्राइवेट नौकरी करते थे। दोनों ही कुछ दिनों पहले गांव आए थे।

वहीं संदीप कुमार, एसडीएम, चौबट्टाखाल ने मामले की मजिस्ट्रेटी जांच की बात कही है। तहसीलदार चौबट्टाखाल को जांच अधिकारी नामित कर उनसे जल्द रिपोर्ट देने को कहा गया है। दरअल युवकों की मौत के कारणों का पता नहीं लग पाया है। हालांकि पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं। उन्होंने कहा है कि जांच और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। यदि जरुरत पड़ी तो घटना की जांच रेगुलर पुलिस को सौंपी जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  सीएम धामी ने किया जागेश्वर के प्रसिद्ध श्रावणी मेले का शुभारंभ, एक महीने तक चलेगा मेला