चेली ब्वारयूं कौतिक में रंगारंग कार्यक्रमों की धूम, स्वयं सहायता समूहों ने लगाए स्टॉल

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। कपकोट के केदारेश्वर मैदान में मंगलवार को चेली ब्वारयूं कौतिक (मातृ शक्ति उत्सव) मनाया गया। बड़ी तादाद में महिलाओं द्वारा उत्सव में प्रतिभाग किया गया। जनपद के विकास में योगदान देने वाली जिले की करीब 10 स्वयं सहायता समूहों ने पहाड़ी उत्पादों के स्टाल लगाकर आत्म निर्भर भारत का संदेश दिया। वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रमों में स्कूली बच्चों की रंगारग प्रस्तुति और छोलिया दल भी मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा।

उत्सव में महिला,पुरुषों के साथ ही भावी पीढ़ी को अपनी सांस्कृतिक विरासत और धरोहर जानने का अवसर चेली ब्वारयूं कौतिक (मातृशक्ति उत्सव) में देखने को मिला। वहीं उत्सव के जरिये स्थानीय उत्पादों व हस्तकला को बड़ा बाजार उपलब्ध कराना भी विशेष रहा। मातृ शक्ति उत्सव में महिला शिल्पकार, माउंटेनिंग, लाइव रीवर क्रासिंग, एमटीबी, एटीवी, ताइक्वांडो, एडवेंचर, महिला छोलिया नृत्य आदि महिला शक्ति का उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के साथ ही जनपद के दानपुर, कमस्यार, खरेही आदि पट्टियों की संस्कृति व परिधानों को भी बेहतर ढंग से प्रदर्शित किया गया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री का स्वागत नामतीचेटाबगड़ महिलाओं द्वारा 501 संतरों के दानों से तैयार की गई माला से किया गया जो सभी के लिए मुख्य आकर्षण का केंद्र रही।

यह भी पढ़ें 👉  कुछ जिलों में भारी कहीं अत्यधिक भारी बारिश का अलर्ट, जानें आज के मौसम का हाल

   जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने चेली ब्वारयूं कौतिक (मातृ शक्ति उत्सव) में बड़ी संख्या में आयी मातृशक्ति का अभिवादन करते हुए धन्यवाद ज्ञापित किया। तथा कार्यक्रम के सफल आयोजन को लेकर सभी अधिकारियों,कर्मचारियों को बधाई दी।

यह भी पढ़ें 👉  इंटरमीडिएट के छात्र को गुलदार ने बनाया निवाला, देर रात मिला क्षत विक्षत शव