गिरीश तिवारी “गिर्दा” सम्मान से सम्मानित होंगे बागेश्वर के भास्कर भौर्याल, जनगीतों की परंपरा पर कर रहे हैं लोकगायन

ख़बर शेयर करें -

प्रतिवर्ष आयोजित होने वाला उमेश डोभाल स्मृति समारोह इस बार 8 व 9 अप्रैल को चमियाला (टिहरी) में सम्पन्न होगा। ट्रस्ट द्वारा चमियाला में स्थानीय आयोजकों के साथ मिलकर इसकी तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं। ट्रस्ट की एक बैठक में प्रतिवर्ष दिये जाने वाले सम्मान और पुरस्कारों की भी घोषणा कर दी गयी है। दुग नाकुरी तहसील क्षेत्र के कुरूली निवासी भास्कर भौर्याल को गिरीश तिवारी गिर्दा सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। भास्कर भौर्याल गिरीश तिवारी गिर्दा की संस्कृति जनगीतों के क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं। भास्कर लगातार ज्वलंत मुद्दों को लोकगीतों के माध्यम से प्रस्तुत कर गिरीश तिवारी गिर्दा के मार्ग पर चल कर युवा पीढ़ी को कुमाउनी लोकगीतों से रूबरू करा रहे हैं।

प्रतिवर्ष आयोजित होने वाला उमेश डोभाल स्मृति समारोह इस बार 8 व 9 अप्रैल, 2023 को चमियाला (टिहरी) में सम्पन्न होगा। ट्रस्ट द्वारा चमियाला में स्थानीय आयोजकों के साथ मिलकर इसकी तैयारियाँ शुरू कर दी गयी है। ट्रस्ट की एक बैठक में प्रतिवर्ष दिये जाने वाले सम्मान और पुरस्कारों की भी घोषणा कर दी गयी है। इस वर्ष प्रतिष्ठित उमेश डोभाल स्मृति सम्मान जनसंघर्षो के जरिये लोककल्याण के लिए समर्पित जोशीमठ बचाओ अभियान के संयोजक अतुल सती को दिया जायेगा। उमेश डोभाल स्मृति पत्रकारिता पुरस्कार (प्रिन्ट मीडिया ) टनकपुर के हिमांशु जोशी को दिया जायेगा।

उमेश डोभाल स्मृति ट्रस्ट द्वारा एक ऑनलाइन बैठक के बाद सम्मान और पुरस्कारों की घोषणा की गयी। ट्रस्ट के अध्यक्ष गोविन्द पंत ‘राजू’ ने बताया कि बैठक में अनेक नामों पर चर्चा के बाद निर्णय लिया गया कि इस वर्ष-2023 का उमेश डोभाल स्मृति सम्मान अतुल सती (जोशीमठ) को दिया जाय। बैठक में उनके जनसंघर्षो के जरिये जनहित के कार्यों पर विस्तार से चर्चा की गयी और मूल्यांकन के बाद पाया गया कि अराखण्ड में पर्यावरण एवं जलविद्युत परियोजनाओं के सवाल पर वे लम्बे समय से सक्रिय रहे। जोशीमठ के सन्दर्भ में जल, जंगल और जमीन को बचाने हेतु अभियान का संचालन ही नहीं किया अपितु जनसंघर्षो को धार देते हुए हेलंग में चारागाह बचाने और जोशीमठ को भूसाव की आपदा से बचाने हेतु आन्दोलनों का नेतृत्व भी किया और इसे राष्ट्रीय और अर्न्तराष्ट्रीय फलक तक भी पुहँचाया।

ट्रस्ट द्वारा इस वर्ष का राजेन्द्र ‘राजू’ जनसरोकार सम्मान नैनीताल में शिप्रा कल्याण समिति के अध्यक्ष जगदीश नेगी को दिये जाने का निर्णय लिया गया। श्री नेगी लम्बे समय से जनसरोकारों से जुड़े हैं और उन्होंने नैनीताल में शिप्रा नदी की स्वच्छता एवं अविरल प्रवाह हेतु सार्थक प्रयास किये हैं। गिरीश तिवारी ‘गिर्दा’ सम्मान इस वर्ष भास्कर भौर्याल (बागेश्वर) को दिया जायेगा। युवा भौर्याल गिर्दा की सांस्कृति और जनगीतों की परम्परा को आगे बढ़ाने में महत्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं। उमेश डोभाल स्मृति पत्रकारिता पुरस्कार (प्रिन्ट मीडिया) इस वर्ष जनपक्षीय पत्रकारिता के लिए हिमांशु जोशी (नैनीताल) को दिया जायेगा। इसी तरह जनसरोकारों और जनपक्षीय खबरों के लिए उमेश डोभाल स्मृति पत्रकारिता पुरस्कार (इलेक्ट्रॉनिक मीडिया) के लिए कमलेश भट्ट (चम्पावत) एवं उमेश डोभाल स्मृति पत्रकारिता पुरस्कार (सोशल मीडिया) के लिए जयदीप सकलानी (देहरादून) को पुरस्कार दिये जाने की घोषणा की गयी है। ये सभी सम्मान व पुरस्कार उमेश डोभाल स्मृति समारोह चमियाला (टिहरी) में 9 अप्रैल, 2023 को दिये जायेंगे। बैठक में समारोह हेतू एक स्मारिका प्रकाशन का निर्णय लिया गया तथा दिनांक 25 मार्च, 2023 को उमेश की पुण्य तिथि को उनके पैतृक गाँव सिरोली में आयोजित कार्यक्रम हेतु स्थानीय ग्रामवासियों का आभार व्यक्त किया गया।

बैठक में ट्रस्ट के अध्यक्ष गोबिन्द पन्त (राजू), कार्यकारी अध्यक्ष विमल नेगी, महासचिव आशीष नेगी कोषाध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह नेगी, डॉ० योगेश धस्माना, दिनेश डोभाल, रवि रावत, वीरेन्द्र खंकरियाल, मनोहर चमोली, डॉo कमलेश मिश्रा, नरेश नौडियाल, प्रदीप रावत, विनय शाह, सुभाष आर्य आदि शामिल थे।

कार्यकारी अध्यक्ष उमेश डोभाल स्मृति ट्रस्ट, पौड़ी उत्तराखण्ड

यह भी पढ़ें 👉  इंटरमीडिएट के छात्र को गुलदार ने बनाया निवाला, देर रात मिला क्षत विक्षत शव