डीएम ने किया उत्तरायणी मेला स्थल का निरीक्षण, मुख्य मंच को आकर्षक बनाने के निर्देश

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। मकर संक्रांति के अवसर पर होने वाले प्रसिद्ध उत्तरायणी मेले की तैयारी के तहत जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने  मेला स्थल के साथ ही अस्थायी दुकानों के लिए प्रस्तावित स्थलों का अधिकारियों व स्थानीय लोगों के साथ निरीक्षण  किया। उन्होंने कहा कि इस बार सरयू बगड़ में दुकानें नहीं लगेंगी जिसके विकल्प के तहत अल्मोड़ा-ताकुला टैक्सी स्टेंड के पास खाली स्थान, ट्रामा सेंटर रोड और नुमाईशखेत के पास बच्चा पार्क पर दुकानें लगेंगी। उन्होंने नुमाईश मैदान में निरीक्षण करते हुए कहा कि मेले के दौरान जनता के लिए पर्याप्त स्थान रखा जाय। साथ ही मुख्य मंच को आकर्षित बनाया जाय।
डीएम पाल ने शुक्रवार को नुमाइश मैदान और मेला स्थलों का निरीक्षण किया। उन्होंने मेला स्थल में लगने वाले स्टाल, झूले, चरखे, मंच, अस्थायी दुकानों के लिए प्रस्तावित वैकल्पिक  स्थानों का निरीक्षण किया तथा कहा कि नुमाईश मैदान व अन्य स्थानों पर जनता के हितों का ध्यान रखा जाय व संपूर्ण मेला स्थल को भव्य तरीके से सजाया जाय। उन्होंने मुख्य मंच का निरीक्षण करते हुए आकर्षित सजावट करने के निर्देश दिए। सरयू बगड़ का निरीक्षण करते हुए उन्होंने कहा कि इस बार मंदिर के समीप सरयू बगड़ में कोई दुकान नहीं लगाई जाएंगी इसके स्थान पर अल्मोड़ा-ताकुला टैक्सी स्टेंड के पास पार्किंग स्थान पर दुकानें लगाने के लिए भूमि मालिक से वार्ता करने व अन्य प्रस्तावित स्थानों के चयन के लिए प्लान तैयार करने के निर्देश उप जिलाधिकारी व अधिशासी अधिकारी को दिए। इस मौके पर एसडीएम मोनिका, पुलिस उपाधीक्षक एसएस राणा,अधिशासी अधिकारी हयात सिंह परिहार, भुवन कांडपाल, हरीश सोनी आदि उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  प्रभावी नीति बनाकर कौशल विकास और स्वरोजगार की दिशा में विशेष ध्यान दे सेतु आयोग: सीएम