वसूली में लाएं तेजी, पुराने वादों का भी त्वरित करें निस्तारण: डीएम

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने शुक्रवार को जिला कार्यालय में मासिक समीक्षा बैठक लेते हुए कहा कि अभी से वसूली में तेजी लायी जाय ताकि वार्षिक लक्ष्य प्राप्त किया जा सके, तथा बकायेदारों से वसूली करने के निर्देश भी दिये। उन्होंने वादो को शीघ्रता से निस्तारित करने के निर्देश दिए कहा कि पुराने वादो में त्वरित तारिख लगाकर निपटाये जाए। 

जिलाधिकारी ने विभिन्न अभियोगों में समयबद्ध ढंग से विवेचना पूर्ण कराने के साथ ही पुराने प्रकरणों की विवेचना शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश पुलिस को दिए। उन्होंने राजस्व व नियमित पुलिस को विभिन्न न्यायालयों से प्राप्त सम्मन, नोटिस, वांरट आदि की व्यक्तिगत तामिली का प्रयास करने के निर्देश दिए, ताकि संबंधितों के न्यायालयों में उपस्थित होने से वादों के निस्तारण में गति आ सके। उन्होंने आबकारी अधिकारी को निरंतर प्रवर्तन कार्य में वृद्धि लाने, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी को राजस्व में वृद्धि लाने के साथ ही यातायात नियमों का पालने कराने, बिना हेलमेट वाहन चलाने, ट्रिपल रार्इडिंग व तेज गति से वाहन चलाने वालों एवं नाबालिकों के द्वारा वाहन चालने की प्रवृत्ति पर रोक लगाने के लिए सघन प्रवर्तन कार्य उपजिलाधिकारी, पुलिस, परिवहन विभाग को संयुक्त रूप से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने राज्यकर विभाग को जीएसटी वसूली बढाने को जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश भी दिए। 

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में भी कांवड़ यात्रा रूट में ठेली और दुकानों पर लगानी होगी नेम प्लेट: सीएम धामी

डीएम ने अभिहित अधिकारी को आगामी त्योहारों के मद्देनजर असुरक्षित खाद्य पदार्थ के निर्माण एवं बिक्री पर प्रभावी अंकुश लगाये जाने हेतु नियमित प्रवर्तन कार्य करने के निर्देश दिए व जिला पूर्ति अधिकारी को सरकारी सस्ता गल्ला दुकानों, डीजल, पेट्रोल पंपों तथा गैस वितरण प्रणाली पर प्रभावी निगरानी रखने व नियमित चैकिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने आडिट आपत्ति, सूचना अधिकार, चरित्र सत्यापन, मुख्यमंत्री कार्यालय, राजस्व परिषद, शासन न्यायालय के संदर्भों पर त्वरित कार्यवाही कर निस्तारण करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि सेवा अधिकार अधिनियम के अन्तर्गत सभी अधिकारी निर्धारित समय पर कार्य सम्पादित किए जाने हेतु व्यक्तिगत ध्यान दे, ताकि अधिनियम की व्यवस्था के तहत आम नागरिकों को सेवाओं का समुचित लाभ ससमय मिल सके।
बैठक में अपर जिलाधिकारी एनएस नबियाल, उप जिलाधिकारी मोनिका, पुलिस उपाधीक्षक एसएस राणा, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन, आबकारी अधिकारी मीनाक्षी, जिला शासकीय अधिवक्ता फौजदारी जीबी उपाध्याय, सविल बीबी पाठक, राजस्व दया कृष्ण, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी पंकज श्रीवास्तव, तहसीलदार तितिक्षा जोशी, दीपिका आर्या आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  सीएम धामी ने किया जागेश्वर के प्रसिद्ध श्रावणी मेले का शुभारंभ, एक महीने तक चलेगा मेला