हरेला पर्व पर जौलकांडे में रोपे गए 251 पौधे, वन विभाग ने किया कार्यक्रम का आयोजन

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। हरेला पर्व पर क्रू-स्टेशन परिसर जौलकांडे में वन विभाग की ओर से आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष बसंती देव, विधायक सुरेश गढिया, जिलाधिकारी अनुराधा पाल, ब्लाक प्रमुख पुष्पा देवी, जिलाध्यक्ष भाजपा इन्द्र सिंह फर्श्वान, एडीएम सीएस इमलाल, मुख्य विकास अधिकारी आरसी तिवारी, प्रभागीय वनाधिकारी उमेश चन्द्र तिवारी सहित जनपद के अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों द्वारा बृहद पौधारोपण किया गया, जिसमें विभिन्न प्रजाति के 251 पौधों का रोपण किया गया।

बतौर मुख्य अतिथि विधायक सुरेश गढिया ने सभी को हरेला पर्व की बधाई एवं शुभाकामना देते हुए कहा कि सभी को वनों के महत्व को समझना होगा व तथा प्रकृति को हरा-भरा बनाना होगा तथा वनों के संरक्षण की उन्होंने अपील भी की। उन्होंने महिला समूह के माध्यम से हर्बल व मसालों के गार्डन तैयार करने को कहा। उन्होंने कहा वनों को स्थालीय लोगों की आजीविका से जोडने का प्रयास किये जाय।

यह भी पढ़ें 👉  किसान, बागवान और पशुपालकों के उत्पाद को बाजार उपलब्ध कराने को करें कार्य: जोशी, डीएम ने दिलाया सर्वांगीण विकास का भरोसा

जिला पंचायत अध्यक्ष बंसती देव ने सभी को हरेला पर्व की शुभकामनाएं देते हुए अधिक से अधिक पेड़ लगाने व पर्यावरण संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की अपील की। उन्होंने कहा धरा को हरा-भरा बनाने, जल स्रोत व जल जीवन बचाने हेतु चौड़े पत्तेदार व फलदार पौधे लागाये जाय ताकि जंगली पशु, पक्षी को जंगलों में ही भोजन मिल सके ताकि वे शहरों, गॉवों के ओर पलायन न करें।

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने संबोधित करते हुए सभी को हरियाली का प्रतीक हरेला पर्व की बधाई देते हुए कहा कि हरेला पर्व हमारे पर्यावरण व संस्कृति से जुड़ा है। उन्होंने कहा पौधारोपण पुण्य का कार्य है इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को पौधारोपण अनिवार्य रूप से करना चाहिए। पौधों हमें प्राण वायु देते है व पेड-पौधों से ही हमें जल मिलता है इसलिए पेड़-पौधे ही जीवन का आधार है। उन्होंने कहा कि हमें आने वाली पीढ़ी के लिए स्वच्छ पर्यावरण, जल हेतु वनों को सजोए कर रखना होगा। उन्होंने अधिक से अधिक पौधारोपण करने व उनकी देखरेख करने की अपील की।

यह भी पढ़ें 👉  लोगों के कार्यों को उलझाने की नहीं सुलझाने की प्रवृति बनाएं अधिकारी: सीएम

कार्यक्रम में उपजिलाधिकारी हरगिरि, परियोजना निदेशक शिल्पी पंत, डीडीओ संगीता आर्या, पुलिस उपाधीक्षक एसएस राणा, मुख्य कृषि अधिकारी गीतांजलि बंगारी, जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. कमल पंत, मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, ईई सिंचाई केके जोशी, ग्रामीण निर्माण विभाग रमेश चन्द्रा, पीएमजीएसवाई विजय कृष्ण, परियोजना अधिकारी उरेडा मंयक नौटियाल, समाज कल्याण अधिकारी हेम तिवारी, आयुर्वेदिक अधिकारी डॉ राघेन्द्र गुप्ता, डॉ बेला महर, रेंजर एसएस करायत सहित कुन्दन परिहार, गौरव दास, संजय परिहार, प्रधान नरेश उप्रेती, मनोहर राम, दलीप खेतवाल, इन्द्र सिंह परिहार, संजय साह जगाती समेत अनेक जनप्रतिनिधि व अधिकारी मौजूद थे।