पुलिस को चकमा देकर भागने वाला वारंटी गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। बीते मंगलवार को थाना कोतवाली पुलिस द्वारा एनडीपीएस एक्ट से सम्बन्धित वारंटी धीरज थापा निवासी किरायेदार नुमाईंशखेत थाना व जिला बागेश्वर हाल निवासी चौरासी बागेश्वर को गिरफ्तार किया गया था, जिसे न्यायालय में पेश किए जाने से पूर्व मेडीकल परीक्षण के लिए जिला चिकित्सालय बागेश्वर ले जाया गया दौराने मेडीकल परीक्षण के वारंटी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया, पुलिस ने काफी खोजबीन की लेकिन वारंटी का पता नहीं चल पाया। पुलिस अधीक्षक ने पुलिस उपाधीक्षक बागेश्वर को तत्काल घटना की गम्भीरता को देखते हुए घटना से सम्बन्धित फरार वारंटी के सम्बन्ध में अभियोग पंजीकृत करने के निर्देश देते हुए प्रभारी निरीक्षक कोतवाली बागेश्वर के नेतृत्व में फरार वारंटी की तलाश/गिरफ्तारी हेतु टीमें गठित की गयी वारंटी की तलाश हेतु कोतवाली पुलिस/ एसओजी की संयुक्त टीम द्वारा लगातार तीन दिन तक दिन व रात्रि में जनपद के समस्त थाना क्षेत्रातन्तर्गत सम्भावित स्थानों में दबिश दी गयी, वाहनों को चैक किया गया तथा ड्रोन कैमरे/पुलिस टीम द्वारा थाना क्षेत्र के घने जंगलों, नदी किनारे व नुमाईंशखेत, चण्डिका मन्दिर, नई बस्ती चौरासी, सैंज, भुरचुनिया धार, दफौट, पाटन, मोहननगर, माल्ता, मेहनरबूंगा, पगना, गाड़गांव आदि स्थानों पर कॉम्बिंग/सघन तलाश/खोजबीन कर दबिश दी गयी ।पुलिस टीम ने बीती रात साढ़े 11बजे राजकीय प्राथमिक विद्यालय गाड़गांव के सामने से भागते हुए समय उक्त फरार वारंटी को गिरफ्तार किया गया । गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में निरीक्षक कैलाश सिंह नेगी कोतवाली बागेश्वर, एसएसआई खष्टी बिष्ट,उपनिरीक्षक गोविन्द बल्लभ भट्ट, मीना रावत,हेड कांस्टेबल बसन्त पन्त,सुनील बहुगुणा, सुरेश आर्या,रविन्द्र सिंह,अम्बा दत्त,रंजीत सिंह कांस्टेबल नरेन्द्र गोस्वामी,गिरीश बजेली,मनीष गोस्वामी,नीरज वाणी,जितेन्द्र सिंह, कैलाश तिरुवा मौजूद थे वहीं एसओजी की टीम में उपनिरीक्षक प्रहलाद सिंह (प्रभारी एसओजी) कांस्टेबल रमेश सिंह,संतोष सिंह,भुवन बोरा,चालक राजेन्द्र प्रसाद आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.