जीरो प्वांइट को छूकर, लौट आए रेलवे के ट्रैकर

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। उत्तर रेलवे के ट्रैकरों का दल पिंडारी ग्लेशियर की सफल ट्रैकिंग कर बुधवार को वापस लौट आया है। दल में देश के तमाम प्रांतों के 60 ट्रैकर शामिल थे।
उत्तर रेलवे ट्रैकिंग एवं माउंट्रेनिंग एकेडमी (एनआरटीएमए) का दल टीम लीडर पर्वतारोही हरीश जोशी, अमरजीत और सुनील कुमार के नेतृत्व में 27 मई को पिंडारी ग्लेशियर की ट्रैकिंग पर गया था। दल पिंडारी जीरो प्वांइट तक गया था। पिंडारी ग्लेशियर की नैसर्गिक सौंदर्य को देखकर ट्रैकर काफी अभिभूत थे। दल में टीम लीडर हरीश जोशी समेत तीन लोगों को छोड़कर सभी सदस्य पहली बार पिंडारी ग्लेशियर की ट्रैकिंग पर गए थे। सबसे कम 13 वर्ष के ट्रैकर राजस्थान के अलवर निवासी जतिन और सबसे उम्रदराज 59 वर्ष के ट्रैकर उदय सिंह रतलाम के थे।

छठी बार पिंडारी के ट्रैकिंग पर गए टीम लीडर हरीश जोशी ने बताया कि दल हम सब भारतवासी एक की थीम पर ट्रैकिंग पर गया था। दल में महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, मणीपुर समेत कई प्रांतों के ट्रैकर शामिल थे।

Ad Ad Ad Ad