सड़क दुर्घटना के मृतकों का गमगीन माहौल में हुआ अंतिम संस्कार, सरयू -गोमती तट पर एक साथ जली सात चिता

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। पिथौरागढ़ जिले के मसूरीकांठा-होकरा मोटर मार्ग में हुई सड़क दुर्घटना में मारे गए शमा और भनार के 10 मृतकों का गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार किया गया। बागेश्वर के सरयू -गोमती तट पर स्थित श्मशान घाट में एक साथ जली सात चिता जली। हादसे में मारे गए सेना के दो जवानों को सैन्य सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। भनार निवासी दो मृतकों का कपकोट के सरयू और खीरगंगा तट पर अंतिम संस्कार हुआ, जबकि एक मृतक की अंत्येष्टि गांव के श्मशान घाट में की गई। घटना के बाद से पूरा विचला दानपुर शोक में डूब गया है।

गुरुवार को हुई दुर्घटना में किशन सिंह पुत्र  खुशाल सिंह, उम्र 64 वर्ष, निवासी शामा ,कपकोट, बागेश्वर, धर्म सिंह पुत्र  पदम् सिंह , उम्र 69 वर्ष, निवासी शामा ,कपकोट, बागेश्वर, कुंदन सिंह पुत्र श्री खीम सिंह, उम्र 58 वर्ष, निवासी शामा ,कपकोट, बागेश्वर, निशा पत्नी उमेश सिंह उम्र 24 वर्ष, निवासी शामा ,कपकोट, बागेश्वर, उमेश सिंह पुत्र कुंदन सिंह उम्र 28 वर्ष, निवासी शामा ,कपकोट, बागेश्वर, शंकर सिंह पुत्र प्रताप सिंह उम्र 42 वर्ष, निवासी शामा ,कपकोट, बागेश्वर, महेश सिंह पुत्र मोहन सिंह उम्र 35 वर्ष भनार, कपकोट, सुंदर सिंह पुत्र खुशाल सिंह उम्र 37 वर्ष, शामा, बागेश्वर, खुशाल सिंह पुत्र उदय सिंह उम्र 64 वर्ष, भनार, बागेश्वर और दान सिंह पुत्र मंगल सिंह उम्र 52 वर्ष , भनार, बागेश्वर की मौत हो गई थी। मृतकों में शंकर सिंह और सुंदर सिंह सेना के जवान थे। घटना स्थल पर ही पोस्टमार्टम करने के बाद पिथौरागढ़ प्रशासन से शव को परिजनों को सौंप दिया।

यह भी पढ़ें 👉  सारेगामापा में सुरों का जलवा बिखेर रहे नैनीताल के आरोह शंकर, शानदार गायकी से निर्णायकों और दर्शकों का जीत रहे दिल

शुक्रवार को सेना के जवान शंकर सिहं और सुंदर सिंह को कौसानी से नायब सूबेदार दीप चंद्र के नेतृत्व में आई टुकड़ी ने शस्त्र उल्टे करके अंतिम सलामी दी। विधायक सुरेश गड़िया, जिलाधिकारी अनुराधा पाल, पूर्व विधायक बलवत सिंह भौर्याल व ललित फर्स्वाण, भाजपा जिलाध्यक्ष इंद्र सिंह फर्स्वाण, पूर्व जिलाध्यक्ष शिव सिंह बिष्ट, अपर जिलाधिकारी सीएस इमलाल सैनिक कल्याण अधिकारी जीएस बिष्ट आदि ने मृतक सेना के जवानों को पुष्प चक्र अर्पित किए तथा अन्य मृतक किशन सिंह, धरम सिंह ,कुंदन सिंह ,निशा , उमेश सिंह, शंकर सिंह व  सुन्दर सिंह के शव पर पुष्प अर्पित करके शोक व्यक्त किया। विधायक गड़िया ने मृतकों के परिजनों से मुलाकात की तथा उन्हें आश्वस्त किया कि प्रदेश सरकार इस दुख की घड़ी में उनके साथ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार दुख की घड़ी में उनके साथ है तथा हरसंभव मदद दिलाई जाएगी। उधर वाहन दुर्घटना में मारे गए मृतक भनार निवासी महेश सिंह का गांव और कुशाल सिंह, दान सिंह का कपकोट सरयू, खीरगंगा तट पर स्थित श्मशान घाट में अंतिम संस्कार किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  प्रदेश के इस जिले में महसूस किए गए भूकंप के झटके

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने वाहन दुर्घटना में मारे गए सभी मृतकों के परिजनों से मुलाकात करके उन्हें ढाढ़स बंधाया तथा कहा कि कपकोट के उपजिलाधिकारी को प्रभावित परिवारों की हरसंभव मदद करने का आदेश दिया गया है। इस दौरान ब्लॉक प्रमुख गोविन्द सिंह दानू, काग्रेस जिलाध्यक्ष भगत डसीला, विक्रम शाही, अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह इमलाल, उपजिलाधिकारी हरगिरि, मोनिका, पुलिस उपाधीक्षक एसएस राणा, सैनिक कल्याण जीएस बिष्ट,सहायक सैनिक कल्याण अधिकारी आरसी तिवारी, समेत अनेक जनप्रतिनिधि, अधिकारी व जनता मौजूद रही।

Ad Ad Ad Ad