सरयू में छलांग लगाने वाली किशोरी का शव सेराघाट में मिला, 12वीं की छात्रा थी ऋचा

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। सरयू नदी में छलांग लगाने वाली किशोरी शव सेराघाट से बरामद हो गया है। किशोरी गरुड़ के गढ़खेत की रहने वाली थी और राइंका भटखोला में 12वीं की छात्रा थी।
बुधवार को भटखोला से स्कूली ड्रेस पहनकर एक किशोरी बिलौना पहुंचती है और टैक्सी से उतरने के कुछ देर बाद ही समण मंदिर के समीप बने पुल से सरयू में छलांग लगा देती है। पुरा दिन रेस्क्यू टीम नदी की खाक छानती रही, लेकिन सफलता नहीं मिली। सूचना मिलने के बाद परिजन भी मौके पर पहुंचे। गुरुवार की सुबह पुलिस को सेराघाट के समीप किशोरी का शव मिलने की सूचना मिली। पुलिस परिजनों को लेकर वहां पहुंची। किशोरी की मां ने शव की शिनाख्त की। जिसके बाद शव का वहीं पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द किया जा रहा है। सीओ शिवराज सिंह राणा ने बताया कि सरयू में कूद मारने वाली किशोरी का नाम ऋचा था, उसकी मां राइंका भटखोला में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। वह अपनी मां के साथ ही रहती थी। हादसे के बाद परिजन सदमे में हैं। सीओ ने परिजनों के हवाले से बताया कि ऋचा पिता की मौत के बाद और मां की बीमारी के कारण परेशान रहती थी। हालांकि उसने घातक कदम क्यों उठाया इसका ठोस कारण पता नहीं चल सका है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड में भी कांवड़ यात्रा रूट में ठेली और दुकानों पर लगानी होगी नेम प्लेट: सीएम धामी