एक बार फिर पैर पसारने लगा कोरोना,देश में लगातार दूसरे दिन पाए गए 1 हजार से अधिक केस

ख़बर शेयर करें -

कोरोनावायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।लगातार दूसरे दिन 1 हजार से ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं।स्थिति की गंभीरता को इसी बात से समझा जा सकता है कि पीएम ने कल ही हाई-लेवल मीटिंग भी की थी।

भारत में एक बार फिर कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने लगे हैं।बीते कई महीनों के बाद अब कोरोना के एक हजार से ज्यादा केस सामने आने लगे हैं।23 मार्च को कोविड मामलों में उछाल देखने को मिला। बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 1133 पॉजिटिव केस दर्ज किए गए।वहीं, चार लोगों ने कोविड के कारण जान गंवा दी।इसी के साथ, कोरोना के एक्टिव केस भी बढ़ गए हैं।मंगलवार को 467 एक्टिव केस बढ़ गए, जिसके बाद सक्रिय मामलों की संख्या 7,026 हो गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, बीते 24 घंटों में 662 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं, जिन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है। अभी देश का रिकवरी रेट 98.8 प्रतिशत है, जबकि मृत्यु दर 1.19 प्रतिशत। स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, देश में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 220.65 करोड़ खुराक लगाई जा चुकी हैं।

महाराष्ट्र का कोविड अपडेट

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. बीते 24 घंटों में प्रदेश से 334 नए मामले दर्ज किए गए।वहीं एक शख्स की कोरोना से जान चली गई. मार्च के महीने में कुल 10 लोग कोरोना से जान गंवा चुके हैं।महाराष्ट्र में अभी तक कोरोना के कुल 81,40,479 मामले सामने आ चुके हैं. जिसमें से 1,48,430 लोगों की जान गई है. अस्पताल से अभी तक 79,90,401 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं।

केरल का कोविड अपडेट

केरल में मंगलवार को 172 नए कोरोना केस रिपोर्ट किए गए. प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या 1,026 हो गई है। 111 मरीजों का इलाज अस्पताल में चल रहा है।केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा है कि कोरोना के मामलों में इजाफा हो रहा है। मंत्री ने सभी जिलों में निगरानी मजबूत करने के भी निर्देश दिए हैं।अधिकारियों ने कहा कि राज्य में अभी तक कोविड क्लस्टर नहीं बने हैं।सभी जिलों को अलर्ट कर दिया गया है।

दिल्ली का कोविड अपडेट

दिल्ली में बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 84 पॉजिटिव केस सामने आए।शहर का पॉजिटिविटी रेट 5.08 प्रतिशत है. वहीं सक्रिय मामलों की संख्या 292 है, जिसमें से 197 लोगों का इलाज घर पर ही चल रहा है।बीते 24 घंटों में 62 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं। बता दें कि राजधानी दिल्ली में कोरोना के 20,08,171 मामले सामने आ चुके हैं।अभी तक 26,524 लोगों की जान कोरोना से गई है।

PM Modi ने की हाई-लेवल मीटिंग
कोरोना के बढ़ते मामलों को देख केंद्र सरकार अलर्ट हो गई है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्थिति पर बारीकी से नजर रख रहे हैं।इसी कड़ी में प्रधानमंत्री ने बुधवार (22 मार्च) को उच्च-स्तरीय बैठक बुलाई और कहा कि कोविड-19 अभी खत्म नहीं हुआ है। उन्होंने अधिकारियों को जीनोम अनुक्रमण बढ़ाने और लोगों द्वारा कोविड-उपयुक्त व्यवहार अपनाए जाने पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) के एक बयान के अनुसार, पीएम मोदी ने देश में कोविड-19 और इन्फ्लूएंजा की स्थिति और उससे निपटने के लिए स्वास्थ्य ढांचे की तैयारियों का जायजा लेने के लिए बैठक बुलाई थी। उन्होंने टीकाकरण अभियान की स्थिति, कोविड-19 के नए स्वरूपों औप इन्फ्लूएंजा के प्रकारों के उभरने और देश के लिए उनके जन स्वास्थ्य प्रभावों की भी समीक्षा की।

जीनोम सीक्वेंसिंग बढ़ाने पर जोर

प्रधानमंत्री मोदी ने प्रयोगशाला निगरानी बढ़ाने, गंभीर घातक श्वसन संक्रमण (एसएआरआई) के सभी मामलों की जांच करने और जीनोम अनुक्रमण को तेज करने का आह्वान किया।पीएमओ ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने स्वास्थ्य केंद्रों पर इन्फ्लुएंजा और कोविड के लिए जरूरी दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने की जरूरत बताई, वहीं पर्याप्त बिस्तर और मानव संसाधन पर भी ध्यान देने को कहा।

यह भी पढ़ें 👉  लोगों के कार्यों को उलझाने की नहीं सुलझाने की प्रवृति बनाएं अधिकारी: सीएम