निजी स्कूलों की मनमानी पर हरकत में आया शिक्षा विभाग बागेश्वर के 09 सहित राज्य के 256 स्कूलों में मारे छापे,22 को नोटिस

ख़बर शेयर करें -

उत्तराखंड में निजी स्कूलों की मनमानी बेहद बढ़ गई है।

निजी स्कूलों की मनमानी, 256 स्कूलों में पड़े छापे, 22 को नोटिस जारी, महंगी किताबों की शिकायत पर शिक्षा विभाग ने की कार्रवाई।

अभिभावकों से मनमानी कर निजी स्कूल मनमर्जी की फीस ले रहे हैं। इसी पर संज्ञान लेते हुए शिक्षा विभाग द्वारा हाल ही में उत्तराखंड के 256 निजी स्कूलों में छापे मारे गए। दरअस्ल प्रदेश के निजी स्कूलों में एनसीईआरटी के बजाए निजी प्रकाशकों की महंगी किताबें लगाने की शिकायत पर शिक्षा विभाग ने शुक्रवार को प्रदेशभर के 256 निजी स्कूलों में छापे मारे। शिक्षा महानिदेशक बंशीधर तिवारी ने जानकारी देते हुए कहा कि क़ई निजी स्कूलों में सरकारी पाठ्यक्रम की पुस्तकें नहीं लगी हैं। इसी के साथ वे स्कूल मनमर्जी की फीस भी हड़प रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  दो विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए प्रचार करेंगे 40 स्टार प्रचारक, पार्टी ने जारी की सूची

नैनीताल के 21 और हरिद्वार के एक स्कूल को नोटिस दिया गया है। मनमानी करने वाले स्कूलों की एनओसी रद्द की जाएगी। छापे के दौरान हरिद्वार में एक ऐसा भी मामला सामने आया जिसमें छात्र-छात्राओं को 3400 रुपये में समस्त विषयों की डिजिटल पुस्तकें उपलब्ध कराई जा रही थीं। शिक्षा महानिदेशक ने कहा नैनीताल में 49, रुद्रप्रयाग में 10, बागेश्वरव में 09, देहरादून में 21, चमोली में 77, हरिद्वार में 37, अल्मोड़ा में 31, टिहरी में 11 और उत्तरकाशी में 11 स्कूलों में छापे मारे गए। अभिभावकों पर महंगी किताबों के लिए दबाव बनाने की जिन स्कूलों के खिलाफ शिकायत सही मिली है, उन्हें भी नोटिस देकर कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें 👉  डीएम ने किया जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण, दो डॉक्टर मिले गैर हाजिर, सीएमएस को दिए स्पष्टीकरण लेने के निर्देश

निजी स्कूलों की मनमानी, 256 स्कूलों में पड़े छापे, 22 को नोटिस जारी, महंगी किताबों की शिकायत पर शिक्षा विभाग ने की कार्रवाई