भवन ध्वस्तीकरण नहीं होने पर जताई नाराजगी, आदर्श विद्यालय की व्यवस्थाओं पर जताई खुशी (वीडियो)

ख़बर शेयर करें -


बागेश्वर। जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने कपकोट के सामुदायिक स्वास्थ केंद, निर्माणाधीन तहसील सभागार, राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय व मुख्यमंत्री घोषणा के तहत डिग्री कॉलेज के निर्माणाधीन मिनी स्टेडियम का स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होंने कुछ व्यवस्थाएं दुरुस्त नहीं होने पर नाराजगी जाहिर की तो बेहतर इंतजाम पर खुशी जताई।

डीएम पाल ने सामुदायिक स्वास्थ केंद में पैथोलॉजी लैब, ओटी, लेबर रूम, जन औषधि केंद्र के सााथ ही चिकित्सालय के नए भवन का निरीक्षण किया। उन्होंने चिकित्सालय में सफाई व्यवस्था बनाए रखने और बायोमेडिकल वेस्ट निस्तारण की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। प्रभारी चिकित्साधिकारी से नियमित ओपीडी एवं नि:शुल्क जांचों की विस्तृत जानकारी ली। जिलाधिकारी ने पुराने चिकित्सालय भवन ध्वस्तीकरण के लिए एक वर्ष पूर्व धनराशि उपलब्ध होने के बाद भी ध्वस्तीकरण न करने पर नाराजगी जताई और तुरंत ध्वस्तीकरण कराकर उस भूमि पर लैब, होम्योपैथिक एवं आयुष कक्ष व कैंटीन स्थापित करने हेतु डीपीआर प्रस्तुत करने के निर्देश प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए।

यह भी पढ़ें 👉  कोतवाली पुलिस ने फरार चल रहे वारंटी को किया गिरफ्तार

उन्होंने राजकीय आदर्श प्राथमिक विद्यालय कपकोट का निरीक्षण के दौरान व्यवस्थाओं पर खुशी जताई। कक्षा एक और दो में रबड इंटरलॉकिंग मैट व डिजिटल स्मार्ट इंटरक्टिव पैनल देने की घोषणा की। विद्यालय के प्रधानाध्यापक केडी शर्मा ने बताया कि विद्यालय में 280 बच्चे अध्ययनरत है। उन्होंने विद्यालय के लिए कलर फोटोकॉपी मशीन, साउंड सिस्टम, इन्वर्टर बैटरी, म्यूजिक उपकरण, लर्निंग मैट्रियल, ड्रम सैट, आउट डोर एलईडी उपलब्ध कराने और पुराने बीआरसी भवन ध्वस्तीकरण कराने का अनुरोध किया। जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को ध्वस्तीकरण के लिए पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने बच्चों से सीधा संवाद किया और पढ़ाई के साथ खेल, कला व पेटिंग आदि में रूचि लेने को कहा।
उन्होंने तहसील में निर्माणाधीन सभागार का निरीक्षण किया व तहसील का रंगरोगन करने के साथ ही आगंतुको के लिए मुख्य गेट के भीतर स्टील बैंच लगाने व विभिन्न सूचना पट लगाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री घोषणा के तहत डिग्री कॉलेज में निर्मित मिनी स्टेडियम का निरीक्षण किया व स्टेडियम के पानी निकासी सुनिश्चित कराने को कहा। स्टेडियम में स्थापित वाालीबॉल, फुटबाल मैदान व ओपन जिम का निरीक्षण करते हुए स्टेडियम में दर्शक दीर्घा व चेजिंग रूम स्थापित करने के निर्देश जिला युवा कल्याण अधिकारी का दिए।

यह भी पढ़ें 👉  जनता दरबार में सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य, आवास की आठ शिकायत दर्ज, डीएम ने दिए प्राथमिकता से निस्तारण के निर्देश

निरीक्षण में उपजिलाधिकारी मोनिका, मुख्य शिक्षा अधिकारी जीएस सौन, प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. हरीश पोखरिया, प्रभारी चिकित्साधिकारी डॉ. जितेश कुमार, डॉ. निशा गोस्वामी, तहसीलदार पूजा शर्मा आदि मौजूद रहे।

Ad Ad Ad Ad