डीएम ने ली अंब्रेला टास्क फोर्स की बैठक, बाल श्रम रोकने को कड़े कदम उठाने के निर्देश

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। जिला कार्यालय में जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने बच्चों के हितों की रक्षा के लिए गठित अंब्रेला टास्क फोर्स की बैठक ली। उन्होंने विभागों से बच्चों को उनके अधिकार दिलाने के लिए मिलकर कार्य करने को कहा। श्रम विभाग को बाल श्रम रोकने के लिए होटल, रेस्टोरेंट, खदान क्षेत्र और निर्माणाधीन भवनों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए।
  बैठक की अध्यक्षता करते हुए डीएम पाल ने नाबालिगों के वाहन चलाने पर उनके अभिवावकों के खिलाफ चालानी कार्रवाई करने और स्कूल वाहनों की चेकिंग करने के निर्देश एआरटीओ को दिए। पंचायत विभाग को ग्राम पंचायतों की खुली बैठक में बच्चों के अधिकार और नशा उन्मूलन की जानकारी देने को कहा। सीईओ को सभी विभागों के साथ मिलकर स्कूलों में नशामुक्ति, बाल श्रम, बाल विवाह, बाल अधिकार संबंधी जागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिए । बैठक में सीडीओ आरसी तिवारी, जिला प्रोबेजन अधिकारी हेम तिवारी, सीईओ गजेंद्र सिंह सौन, पुलिस उपाधीक्षक अंकित कंडारी, सहायक परिवहन अधिकारी हरीश रावल, डॉ. प्रमोद जंगपांगी, प्रभारी कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास रेनू नगरकोटी, कैलाश गिरी, सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष दीवान सिंह दानू आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  वन भूमि हस्तांतरण के लंबित प्रकरणों की हुई समीक्षा, दर्जा राज्यमंत्री, विधायक और डीएम ने दिए प्रकरणों के जल्द निस्तारण के निर्देश