डीएम ने किया जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण, दो डॉक्टर मिले गैर हाजिर, सीएमएस को दिए स्पष्टीकरण लेने के निर्देश

ख़बर शेयर करें -

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने शुक्रवार को जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। उपस्थिति पंजिका का अवलोकन में दो डॉक्टर नदारद मिलने पर डीएम ने सीएमएस को दोनों डॉक्टर का स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिए।

  निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने मरीजों के पर्चे पर डॉक्टर द्वारा लिखी गई दवाइयों की भी पड़ताल की। जिलाधिकारी ने जनरल और महिला वार्ड में भर्ती मरीजों का हालचाल जाना। और भर्ती मरीजों से डॉक्टर द्वारा किए जा रहे उपचार के बारे में जाना। जनरल वार्ड में भर्ती ग्वालदम एसएसबी के जवान माही सिंह, महिला वार्ड में मंडलसेरा की शालनी और अमसरकोट के अंकित का भी हालचाल जाना। जिलाधिकारी ने सीएमएस को भर्ती मरीजों के बेहतर ईलाज करने के निर्देश दिए। एचडीयू में भर्ती मरीजों का भी हालचाल भी जाना।

यह भी पढ़ें 👉  वन भूमि हस्तांतरण के लंबित प्रकरणों की हुई समीक्षा, दर्जा राज्यमंत्री, विधायक और डीएम ने दिए प्रकरणों के जल्द निस्तारण के निर्देश

डीएम पाल ने जिला अस्पताल में चल रहे मरम्मत कार्यों का भी निरीक्षण कर जायजा लिया। सीएमएस को  निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने और कार्यदायी संस्था को तय समय के भीतर कार्य पूर्ण करने की हिदायत दी। उन्होंने अल्ट्रासाउंड, एनबीएसयू, सीटी स्कैन, एक्सरे रूम, ओटी, एचडीयू, इमरजेंसी का निरीक्षण किया। जिला अस्पताल में साफ सफाई का विशेष ध्यान रखने के साथ ही जिला अस्पताल में इधर उधर पड़ी खराब सामग्री को निष्प्रयोज्य करने के निर्देश सीएमएस को दिए।
ओपीडी में मरीजों एवं तीमारदारों की बढ़ती तादात को देखते हुए जिलाधिकारी ने व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के साथ ही भीड़ नियंत्रित करने को लेकर पीआरडी की तैनाती करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान सीएमएस डॉ वीके टम्टा मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  जनता दरबार में दर्ज हुईं 13 शिकायतें, सीएम हेल्पलाइन की लंबित शिकायतों पर डीएम ने जताई नाराजगी