आपदा प्रबंधन और प्राथमिक उपचार में निपुण बनेंगे डीएलएड प्रशिक्षु, रेडक्रॉस सोसायटी दे रही प्रशिक्षण

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। रेडक्रॉस सोसायटी के तत्वाधान में आपदा प्रबंधन एवं फर्स्टएड का चार दिवसीय प्रशिक्षण जिला शिक्षा एवम प्रशिक्षण संस्थान में शुरू हुआ। शिविर में 60 डीएलएड प्रशिक्षुओं को आपदा से निपटने और प्राथमिक उपचार के गुर सिखाए जा रहे हैं।

प्रशिक्षण का शुभारंभ जिलाधिकारी/ जिला अध्यक्ष रेडक्रॉस सोसायटी अनुराधा पाल, पुलिस अधीक्षक अक्षय प्रहलाद कोंडे, रेडक्रॉस के चेयरमैन संजय साह जगाती, वाइस चेयरमैन इंद्र सिंह फर्श्वान ने संयुक्त रूप से किया। जिलाधिकारी ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्र आपदाओं की दृष्टि से बेहद संवेदनशील है। आपदा प्रबंधन की जानकारी होने पर आपदाओं के बाद राहत एवं बचाव कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जा सकती है। जिले में रेडक्रास इस क्षेत्र में अच्छा कार्य कर रही है। प्रशिक्षणार्थियों को आपदा के दौरान प्रभावितों का प्राथमिक इलाज, उन्हें स्ट्रेचर पर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने आदि के तरीके भी बताए जाएंगे।

यह भी पढ़ें 👉  दूल्हा-दुल्हन का संकल्प: घर-गृहस्थी जिम्मेदारीक दगाड़ देशक लै उठूंन भार, भोट दिबेर बनूल आपणी पसंदक सरकार


  उत्तराखंड रेडक्रॉस के उपसचिव और मास्टर ट्रेनर हरीश शर्मा ने कहा कि प्राकृतिक आपदाओं को टाला नहीं जा सकता लेकिन जागरूकता से इसके खतरों को कम जरूर किया जा सकता है। शिविर का संचालन रेडक्रॉस सोसायटी के जिला सचिव आलोक पांडेय ने किया।
इस मौके पर रेडक्रॉस सोसायटी के कोषाध्यक्ष जगदीश उपाध्याय, प्रदेश प्रतिनिधि दीपक पाठक, डायट प्राचार्य मनोज कुमार पांडेय, हरीश सोनी, मोहीउद्दीन तिवारी, ट्रेनर हिमांशू जोशी, आरपी कांडपाल, प्रमोद जोशी आदि मौजूद रहे।

Ad Ad Ad