जनता दरबार में दर्ज हुई 14 शिकायतें, दो का मौके पर निस्तारण

ख़बर शेयर करें -

बागेश्वर। डीएम अनुराधा पाल ने सोमवार को जनता दरबार लगाकर लोंगो की समस्याएं सुनी। जनता दरबार में 14 शिकायती पत्र प्राप्त हुए, दो का मौके पर ही निस्तारण किया गया, शेष को संबंधित विभागों को हस्तांतरित करते हुए समयावधि के अंतर्गत निस्तारण करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा जन समस्याओं का त्वरित निराकरण अधिकारियों की जिम्मेदारी है, यह सुनिश्चित किया जाए कि जन समस्याओं का शीघ्रता से समाधान हो।

जनता दरबार में नदीगांव के ग्रामीणों ने पेयजल की समस्या बताते हुए इसके समाधान मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने ईई जल संस्थान को मौका मुआयना करते हुए पेयजल समस्या एक सप्ताह में दूर करने के निर्देश दिए। सैम वार्ड निवासियों द्वारा भी पेयजल समस्या बताते हुए इसके सुचारू करने की मांग रखी, जिस पर जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 जल संस्थान को तीन दिन में समस्या के समाधान के निर्देश दिए। आनंद सिंह निवासी ज्यौडा स्टेट ने जॉब कार्ड व निरस्तीकरण प्रमाण पत्र दिलाने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी व जिला पंचायतराज अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। भतौडा निवासी तिलराम ने आवास दिलाने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। गंगा देवी निवासी ज्वाणास्टेट पिंगलों ने अपने दिव्यांग बच्चे की पेंशन लगाने की मांग की, जिस पर जिलाधिकारी ने जिला समाज कल्याण अधिकारी व तहसीलदार गरूड़ का स्वंय प्रकरण पर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें 👉  अदरक कूटकर बनाई चाय, मॉर्निंग वॉक पर सुनी लोगों की समस्याएं, अस्पताल का किया निरीक्षण

अध्यक्ष व्यापार मंडल गरूड़ ने नगर पंचायत क्षेत्र में किए गए कार्यो का भुगतान कराने की मांग की, जिस  पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी गरूड़ व अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत को प्रकरण में सभी तथ्यों के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए। नायलमाफी निवासी जय दत्त मिश्रा ने सड़क निर्माण से खेतों व फलदार वृक्षों को हुए नुकसान का मुआवजा दिलाने की मांग की।

जनता दरबार में मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, अधि0अभि0 जल संस्थान सीएस देवडी, जल निगम वीके रवि, लोनिवि राजकुमार, पीएमजीएसवाई विजय कृष्ण, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज बर्मन, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट समेत अनेक अधिकारी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें 👉  लोगों के कार्यों को उलझाने की नहीं सुलझाने की प्रवृति बनाएं अधिकारी: सीएम